VIDEO फरीदाबाद से 800 किमी दूर उज्जैन कैसे पहुंचा विकास, बड़ा सवाल?




6 दिन पहले उत्तर प्रदेश के आठ पुलिसकर्मियों की निर्मम हत्या करके भागा आतंकी विकास दुबे आज मध्य प्रदेश पुलिस की गिरफ्त में आ गया. 6 दिन तक यूपी पुलिस की नाक में दम करने वाला विकास आखिर मध्य प्रदेश तक कैसे पहुंचा, यह एक बड़ा सवाल है. इसी के साथ ही सवाल यह भी है कि विकास की मध्य प्रदेश पुलिस ने गिरफ्तारी की है या उसका आत्मसमर्पण कराया गया है?


आकाश नागर 

जिस तरह से विकास दुबे का पॉलिटिकल एप्रोच लगातार सामने आ रहा है, उससे विकास की पुलिस गिरफ्तारी पर कई सवाल खड़े हो गए हैं. सबसे पहले तो यह है कि 6 दिन पूर्व जब उत्तर प्रदेश पुलिस के जवान चप्पे-चप्पे पर तैनात थे, तो विकास कैसे हरियाणा के फरीदाबाद पहुंचा? जहां से पुलिस ने उसके तीन साथियों को गिरफ्तार भी किया. इसके बाद वह हरियाणा के फरीदाबाद से कैसे 800 किलोमीटर दूर मध्य प्रदेश के उज्जैन में पहुंच गया?


कहा यह भी जा रहा है कि क्या इस दौरान पुलिस को वह दिखाई नहीं दिया या पुलिस से जानबूझकर बचाया जाता रहा. कई दिन से चर्चाओं का दौर था कि कानपुर कांड का मुख्य अभियुक्त विकास कोर्ट में सरेंडर करना चाहता था. जिसके लिए उत्तर प्रदेश के साथ ही दिल्ली और एनसीआर के सभी कोर्ट में पुलिस की तैनाती कर दी गई थी. हालांकि, इस दौरान पुलिस ने उसके दो साथियों को इनकाउंटर में मार गिराया था. पुलिस चुन-चुन कर उसके साथियों को पकड़ कर मौत के हवाले कर रही थी. ऐसे में कहा जा रहा था कि विकास को भी पुलिस ठिकाने लगाने की पूरी तैयारी कर चुकी है.


कहा यह भी जा रहा था कि अगर विकास जिंदा गिरफ्तार होता है तो वह कई सफेदपोश नेताओं की पोल खोल सकता है. इसके मद्देनजर उसका मारा जाना चर्चा का विषय बना हुआ था. फिलहाल जिस तरह से मध्य प्रदेश पुलिस कह रही है कि उसने उज्जैन के महाकाल मंदिर के सामने से विकास दुबे को गिरफ्तार किया है उसमें मंदिर के पुजारियों और आसपास के लोगों की बयान की जांच होनी जरूरी होगी.

सवाल यह भी है कि उज्जैन के महाकाल मंदिर के पुजारियों ने विकास दुबे को पहचान कर पुलिस को सूचना दी या पुलिस ने उसे सीधा गिरफ्तार किया. कहा तो यहां तक जा रहा है कि महाकाल मंदिर में लखन यादव नाम के एक गार्ड ने गैंगस्टर विकास दुबे को पहचाना था और उसे पुलिस को सौंप दिया. हालांकि, मध्य प्रदेश पुलिस इसे अपनी गिरफ्तारी दर्शा रही है.


चर्चा यह भी कलेक्टर एसपी बड़ी हड़बड़ी में महाकाल मंदिर पहुंचे
8 जुलाई बुधवार रात करीब 8:30 बजे उज्जैन कलेक्टर और एसपी बड़ी हड़बड़ी में महाकाल मंदिर पहुंचे थे.. (दर्शन के लिए नहीं) देर तक एक कक्ष में मंत्रणा करते रहे.. 9 जुलाई गुरुवार सुबह विकास दुबे गिरफ्तार हो गया.. मतलब इंटेलिजेंस की सूचना थी.. या यह सब कहीं गिरफ्तारी की पटकथा का हिस्सा तो नहीं..??


लखनऊ के 2 वकील हिरासत में 
विकास के सरेंडर के बाद लखनऊ के 2 वकील हिरासत में लिए गए हैं. पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है. दोनों निजी गाड़ी से उज्जैन आए थे, दोनों की विकास से कनेक्शन की जांच की जा रही है. 



Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a comment

abc abc