VIDEO सेनेटाइज़र लगाकर आग के पास जाना ख़तरनाक हो सकता है?







सेनेटाइज़र लगाकर रसोई में गैस या किसी भी आग/ज्वलनशील पदार्थ के पास मत जाओ या जाने से पहले पानी से हाथ अच्छी तरह से धो लो. सैनिटाइजर में अल्कोहल होता है और एकदम आग पकड़ता है.

 शक्ति 



ये कोई साल 2008-09 की बात है. मैं अपने एक परिचित की मेडिकल शॉप पर बैठा हुआ था. तभी एक सज्जन आए. वे किसी दवा कंपनी के प्रतिनिधि थे यानी मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव. रोजमर्रा में उन्हें एमआर कहा जाता है. उन्होंने एक छोटी सी-शीशी सैंपल के रूप में दुकान के काउंटर पर रखी और कहा कि यह हैंड सेनेटाइज़र है. उन्होंने कहा कि दुकान पर कई तरह के ग्राहक आते हैं. इसलिए बीमारी से बचने के लिए इसे इस्तेमाल करें, आपको हाथ धोने की जरूरत भी नहीं पड़ेगी. यह सुनकर सभी को अचंभा भी हुआ और खुशी भी.


अचंभा इस बात का इस शीशी में ऐसा क्या है, जो हाथ धोने की भी जरूरत नहीं. और खुशी इस बात की कि अब बिना हाथ धोए काम चल जाएगा और बीमारी से भी बच जाएंगे. लेकिन उन भाईसाब ने कहा कि खाना खाने से पहले हाथ ही धोना पड़ेगा और शौच के बाद भी साबुन से ही हाथ धोने होंगे. यह सुनकर हम लोगों का चेहरा उतर गया. सबने कहा कि फिर क्या फायदा?
कोरोना से बचाव में हैंड सेनेटाइज़र काफी उपयोगी है.

वो साल दूसरा था, ये साल दूसरा है…
आगे बढ़ते हैं. साल 2020. हैंड सेनेटाइज़र फिर से सुर्खियों में है. वजह- कोरोना वायरस. कोरोना वायरस तेजी से पांव पसार रहा है. दुनिया के 186 देशों से कोरोना के मामले सामने आ चुके हैं. WHO के अनुसार, इस वायरस से अब तक 12,944 लोगों की मौत हो चुकी है. अभी तक कोरोना के इलाज के लिए कोई दवाई सामने नहीं आई है. उपाय के तौर पर भीड़भाड़ से बचने के साथ ही साबुन से हाथ धोना और हैंड सेनेटाइज़र का इस्तेमाल करना ही है. कोरोना के मामले सामने आने के बाद से सेनेटाइजर काफी डिमांड में हैं. इनकी बिक्री में काफी उछाल आया है. साथ ही बड़े ब्रांड के सेनेटाइज़र तो मार्केट से ही गायब हो गए हैं.
लेकिन पिछले कुछ दिनों में सेनेटाइज़र को लेकर कई तरह के मैसेज सोशल मीडिया में तैर रहे हैं. इनमें से एक है-
आग के पास खतरनाक है सेनेटाइज़र 
इस मैसेज में भी सच्चाई है. सेनेटाइज़र में अल्कोहल होता है. अल्कोहल तेजी से आग पकड़ती है. ऐसे में सावधानी बरते जाने की जरूरत है. सेनेटाइज़र के बारे में हमने डॉक्टर से बात की. जयपुर में एक निजी अस्पताल में कार्यरत डॉ. अतुल जैन ने बताया कि गैस चूल्हे या आग के पास सेनेटाइज़र का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. अल्कोहल होने की वजह से सेनेटाइज़र आग पकड़ सकता है. इसलिए जब भी सेनेटाइज़र का इस्तेमाल करें, तो उसे पूरी तरह से सूख जाने दे. अल्कोहल 10-15 सेकंड में उड़ जाता है, तो हाथ के सूखने पर ही आग से जुड़ा काम करना चाहिए.
देखें कैसे सेनेटाइज़र लगाकर रसोई में गैस या किसी भी आग/ज्वलनशील पदार्थ के पास जाने पर आप दुर्घटना का शिकार हो सकते हैं?




सरकार को हैंड सेनेटाइज़र के दामों को कंट्रोल करना पड़ा है, क्योंकि इसके दाम आसमान छू रहे थे और कालाबाजारी की शिकायतें भी आ रही थीं.
उन्होंने आगे कहा कि सेनेटाइज़र के ज्यादा इस्तेमाल से हाथ सूखने लगता है. ऐसा लगता है, जैसे एलर्जी हो गई है. दरअसल लगातार सेनेटाइज़र लगाने से हाथों की नमी गायब हो जाती है. इससे त्वचा की उपरी परत निकलने लगती है. इससे बचने के लिए वे नारियल तेल लगाने की सलाह देते हैं.
सेनेटाइज़र कितना कारगर है?
इस सवाल पर डॉ. अतुल ने कहा कि कोरोना वायरस को देखते हुए सेनेटाइज़र का इस्तेमाल कारगर है. इससे वायरस खत्म होता है. हालांकि वे सचेत करते हैं कि अगर साबुन से धो सकते हैं, तो वही करिए. खाना खाने से पहले साबुन से ही हाथ धोना चाहिए. इसी तरह शौच के बाद भी साबुन से ही हाथ धोने चाहिए. उन्होंने कहा कि अगर आप सफर कर रहे हैं और हाथ धोने की स्थिति में नहीं हैं, तो सेनेटाइज़र का इस्तेमाल करना चाहिए.
जो बात करीब 12 साल पहले एमआर भाईसाब ने कही थी. उस बात पर डॉक्टर साब ने भी मुहर लगा दी.
हैंड सेनेटाइज़र को लेकर ये सावधानियां भी बरतें
– सेनेटाइज़र में कई तरह के हानिकारक केमिकल भी होते हैं. इससे खाने से पहले हमेशा हाथ धोएं.
– सेनेटाइज़र जब भी खरीदें, तो देखें कि उसमें Triclosan नाम की चीज तो नहीं है. इससे शरीर की इम्युनिटी यानी रोगों से लड़ने की ताकत को नुकसान पहुंचता है. इससे एलर्जी भी हो सकती है. साथ ही शरीर के हार्मोन्स को भी नुकसान पहुंचता है. अमेरिका में सेनेटाइज़र में इसके इस्तेमाल पर प्रतिबंध भी लग चुका है.
– सेनेटाइज़र में आइसोप्रोपाइल अल्कोहल (Isopropyl Alcohol) इस्तेमाल होती है. यह शराब में होने वाली अल्कोहल से काफी अलग है. आइसोप्रोपाइल अल्कोहल के शरीर में जाने से नुकसान होती है. इसे बच्चों से दूर रखना चाहिए.
– सेनेटाइज़र लगाने के बाद हाथों को आंखों से दूर रखना चाहिए, नहीं तो हाथों में जलन हो सकती है.
लेकिन कोरोना वायरस के मामले में सेनेटाइज़र कारगर है. इसलिए अगर जरूरी काम से बाहर जा रहे हैं, तो इसे अपने पास रखें. लेकिन घर लौटने पर साबुन से हाथ धोना न भूलें.
by /thelallantop.com



Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc