छात्राओं की समाजसेवा में सक्रियता जरूरी- विजयपाल नागर




कु. मायावती राजकीय महिला महाविद्यालय, बादलपुर की राष्ट्रीय सेवा योजना के ग्राम डेरी मच्छा एवं सादोपुर मे आयोजित सात दिवसीय विशेष शिविर के अंतिम दिन आज प्रथम सत्र मे प्रथम इकाई मे महिला उद्यमिता एवं स्वरोजगार संबंधित चर्चा आयोजित की गई। एवं डॉ माधुरी पाल ने बंधेज कला पर प्रस्तुतिकरण दिया।



आकाश नागर 

 द्वितीय इकाई मे डॉ दीप्ति वाजपेयी द्वारा शिविर की छात्राओं को जीवन मे संस्कारों के महत्व को समझाया गया। द्वितीय सत्र में दोनों इकाइयों द्वारा संयुक्त रूप से समापन समारोह आयोजित किया गया। जिसमें ग्राम प्रधान विजयपाल मुख्य अतिथि एवं महाविद्यालय प्राचार्या डॉ दिव्या नाथ अध्यक्ष के रूप में उपस्थित रहे। 


स्वागत के उपरांत छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये। तत्पश्चात शिविर में विगत सात दिनों में आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं में विजयी छात्राओं को मुख्य अतिथि एवं अध्यक्ष द्वारा पुरस्कार वितरित किए गए।

 इसके उपरांत दोनों इकाइयों के कार्यक्रम अधिकारियों डॉ शिल्पी एवं नेहा त्रिपाठी द्वारा शिविर की आख्या प्रस्तुत की गई।मुख्य अतिथि ने अपने उद्धबोधन मे शिविर की छात्राओं द्वारा की गई समस्त गतिविधियों की प्रशंसा करते हुए महाविद्यालय प्रयासों की अत्यधिक सराहना की।


 बादलपुर प्रधान विजयपाल नागर ने कहा कि आज समाज में युवा वर्ग खासकर छात्र-छात्राओं के समाज सेवा में रुचि लेना बहुत जरूरी हो गया है । क्योंकि आजकल युवा वर्ग समाज का विशेष पसंद करता है । आने वाले दिनों में भविष्य भी उनके हाथों में होगा । इसलिए छात्र छात्राओं को समाज सेवा में सक्रियता जरूरी है। 

 अध्यक्षा प्राचार्या द्वारा सात दिनों में  छात्राओं द्वारा किये गए विभिन्न सामुदायिक कार्यो की  प्रशंसा करते हुए दोनों इकाइयों के कार्यक्रम अधिकारियों को शिविर के सफल आयोजन हेतु शुभकामनाएं दी। मंच संचालन डॉ नेहा त्रिपाठी द्वारा एवं डॉ सोनम द्वारा धन्यवाद ज्ञापित किया। समापन सामारोह में समिति के समस्त सदस्यों के साथ महाविद्यालय के अन्य प्राध्यापक उपस्थित रहे। कार्यक्रम में प्रोग्राम अधिकारी  डाक्टर शिल्पी और नेहा त्रिपाठी का विशेष योगदान रहा।



Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc