45 नई 108 जननी एम्बुलेंस रवाना कर सीएम कमलनाथ ने कहा 'आम आदमी के लिए जन सुविधाएँ बढ़ाना शासन का लक्ष्य'




राज्य सरकार का लक्ष्य है कि आम आदमी की बुनियादी सुविधाओं में निरंतर वृद्धि हो, जिससे वह एक सुरक्षित और सम्मानित जीवन जी सके। यह बात आज लाल परेड ग्राउण्ड में 108 जननी एंबुलेंस के 45 नए वाहनों के लोकार्पण समारोह को संबोधित करते हुए सीएम कमलनाथ ने कही। ये वाहन पुराने वाहनों से रिप्लेस (परिवर्तित) किये गए हैं। मुख्यमंत्री ने 108 जननी एंबुलेंस की नई वाहनों को हरी झंडी दिखाकर आम जनता की सेवा के लिए रवाना किया। इस मौके पर लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री तुलसीराम सिलावट और जनसम्पर्क मंत्री पी.सी. शर्मा भी उपस्थित थे।
- मनोज पाठक


भोपाल : मंगलवार, अक्टूबर 15, 2019 / मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी प्राथमिकता है कि प्रदेश में नागरिकों को हर सुविधा मिले। एक ऐसा वातावरण प्रदेश में बने, जिसमें हर वर्ग खुश रहे और हमारा प्रदेश खुशहाल बने।  उन्होंने कहा कि 108 जननी एंबुलेंस में पुराने वाहनों को बदला जाना इसी कड़ी में एक प्रयास है। उन्होंने कहा कि नई एंबुलेंस वाहन शुरू होने से सुदूर अंचलों में रहने वाले लोगों को सुचारू रूप से समय पर इलाज मिल सकेगा।

बताया गया कि वर्तमान में प्रदेश के 51 जिलों में 737 संजीवनी 108 जननी एंबुलेंस वाहन संचालित हैं। इनमें से 2.5 लाख किलोमीटर चल चुके अथवा 5 वर्ष से अधिक पुराने हो चुके वाहनों में से 50 वाहनों को नए वाहनों में बदलने की योजना है। जानकारी दी गई कि जननी एक्सप्रेस योजना में अप्रैल 2019 से सितंबर 2019 तक मात्र छ: माह में कुल 2 लाख 94 हजार 595 गर्भवती महिलाओं तथा 39 हजार 299 बीमार शिशुओं को उपचार के लिये समय पर घर से चिकित्सालय तक पहुँचाया गया। इसी प्रकार कुल 2 लाख 64 हजार 513 महिलाओं को प्रसव उपरान्त तथा 28 हजार 24 बीमार शिशुओं को अस्पताल से घर तक पहुंचाया गया। कुल 77 हजार 446 हितग्राहियों को एक अस्पताल से दूसरे उच्च स्वास्थ्य संस्थान तक पहुँचाया गया।




Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc