खटलापुरा नाव दुर्घटना, राजस्व निरीक्षक पर गिरी गाज, सस्पेंड



मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में खटलापुरा विसर्जन घाट पर हुई नाव दुर्घटना के लिए कलेक्टर तरूण पिथोड़े ने प्रथम दृष्टया कार्य में लापरवाही पाए जाने पर एक राजस्व निरीक्षक को निलंबित किया है. इसी के साथ उन्होंने घटना की मजिस्ट्रीयल जाँच के आदेश दिएहैं. अपर जिला मजिस्ट्रेट सतीश कुमार एस को मजिस्ट्रीयल जाँच अधिकारी नियुक्त किया गया है.


आदेश में कहा गया है कि तहसील कोलार में पदस्थ राजस्व निरीक्षक अनिल गव्हाणे को खटलापुरा विसर्जन घाट पर व्यवस्थाओं के लिए रात्रि 2 से विसर्जन समाप्ति तक के लिए नियुक्त किया गया था, लेकिन प्रारंभिक तौर पर पाया गया कि उक्त राजस्व निरीक्षक द्वारा ड्यूटी में लापरवाही बरती गई. लापवाही के लिए उन्हें निलंबित करते हुए सहायक अधीक्षक राजस्व शाखा से संलग्न किया गया है. 

उल्लेखनीय है कि इस दुर्घटना में 11 व्यक्तियों की मृत्यु हुई है. 


मजिस्ट्रीयल जॉंच के आदेश, एडीएम सतीश कुमार एस करेंगे जाँच

इसी के साथ उन्होंने खटलापुरा विसर्जन घाट पर गणेश प्रतिमा विसर्जन के दौरान नाव पलटने से 11 व्यक्तियों की तालाब में डूबने से हुई मृत्यु की मजिस्ट्रीयल जाँच के आदेश दिए है. अपर जिला मजिस्ट्रेट सतीश कुमार एस को मजिस्ट्रीयल जाँच अधिकारी नियुक्त किया है.

जाँच के लिए 8 बिन्दु निर्धारित किए गए है. जाँच के तहत मृत्यु की सूचना पुलिस को कब प्राप्त हुई एवं पुलिस द्वारा तत्समय क्या कार्यवाही की गई. घटना किन परिस्थितियों में घटित हुई, क्या घटना के लिए कोई जिम्मेदार है, विसर्जन के दौरान ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए क्या प्रयास किए गए थे- जैसे बिन्दुओं पर होगी.

Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc