वनमंत्री उमंग सिंघार ने स्वीकारा 'भ्रष्ट अधिकारियों को महत्वपूर्ण पदों पर पदस्थ किया' लोग कह रहे उनके नाम और बता दीजिये






Big confession       
हमाम में सब नंगे हैं.. और जब बात निकली है तो दूर तलक जायेगी ही

जब हम किसी की तरफ एक उंगली उठाते हैं, तो बाकी की 3 उंगलियाँ स्वतः ही हमारी ओर उठ जाती हैं, ऐसा ही कुछ मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार के वनमंत्री उमंग सिंघार के साथ हो गया है. खुद अपने ही शब्दों के जाल में फंस गए हैं उमंग सिंघार. 
- बलभद्र मिश्रा    


आज उन्होंने एक नया बयान दिया है. इसमें वह कह रहे हैं दिग्विजय सिंह ने उन्हें 16 काम बताए थे, जिसमें से उन्होंने 11 कर दिये. साथ ही लगे हाथ वनमंत्री उमंग सिंघार ने यह भी बता दिया कि इनमें अधिकांश काम भ्रष्ट अधिकारियों के महत्वपूर्ण पदों पर पदस्थ करने के सौंपे थे.

अब इन्हें कौन समझाए भले ही दिग्विजय सिंह ने कहा था, जैसा कि यह कह रहे हैं, लेकिन इन्होंने यह तो स्वीकार कर ही लिया कि इन्होंने भ्रष्ट अधिकारियों को महत्वपूर्ण पदों पर पदस्थ कर दिया है. लोग कह रहे हैं अब उनके नाम और बता दीजिये.  


Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc