केंद्र सरकार ने पांच साल के लिए बढ़ाया लिट्टे पर प्रतिबंध,


केंद्र सरकार ने पूर्व प्रधानमन्त्री राजीव गांधी की ह्त्या करने वाले लिबरेशन टाइगर्स ऑफ तमिल ईलम (लिट्टे) के खिलाफ प्रतिबंध  पांच साल के लिए तत्काल प्रभाव से बढ़ा दिया है. गृह मंत्रालय ने आज मंगलवार को एक अधिसूचना जारी कर इसकी जानकारी दी.

मंत्रालय ने बताया कि लिट्टे पर प्रतिबंध गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम, 1967 के तहत बढाया गया है. अधिसूचना में कहा गया है कि लिट्टे की ओर से जारी हिंसा एवं विध्वंसकारी गतिविधियां भारत की एकता एवं अखंडता के लिए हानिकारक हैं.

अधिसूचना में कहा गया है कि संगठन भारत विरोधी रुख अपनाए हुए है और भारतीय नागरिकों की सुरक्षा के लिए गंभीर खतरा पैदा करता है. 


उल्लेखनीय है लिट्टे या तमिल टाइगर्स का गठन 1976 में वी प्रभाकरण ने किया था. इसका गठन श्रीलंका में स्वतंत्र तमिल राज्य की स्थापना के मकसद के लिए किया गया था. पूर्व प्रधानमन्त्री राजीव गांधी की ह्त्या लिट्टे ने की थी. राजीव गांधी की हत्या 1991 में चेन्नई के पास श्रीपेरमबुदूर में हुई थी. वह चुनाव प्रचार के लिए वहां पहुंचे थे, जब लिट्टे की एक आत्मघाती हमले में उनकी मौत हो गई. 

Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc