साध्वी प्रज्ञा ने लिया उमा भारती से पंगा, कसा तंज


अभी तो प्रत्याशी ही बनी हैं, पार्टी के लाख समझाने के बाद भी प्रज्ञा सिंह के तेवर नरम नहीं पड़े हैं. अब उन्होंने साध्वी उमा भारती को उन्हीं की भाषा में जवाब देकर नया पंगा मोल ले लिया है. 

मीडिया से बातचीत में साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने उमा भारती पर व्यंग्यात्मक शैली में एक प्रकार से तंज कसते हुए कहा है कि जब भी मिलती हैं, वे मेरा बहुत सम्मान करती हैं. मैं उमा दीदी से कई बार कह चुकी हूं कि मेरा इतना सम्मान मत करो. 

उल्लेखनीय है उमा भारती ने सबसे पहले कटनी में कहा था कि साध्वी प्रज्ञा महान संत है. उनकी तुलना मेरे से नहीं की जा सकती है. मैं तो साधारण मूर्ख किस्म की प्राणी हूं. इसके बाद कल पन्ना में उन्होंने कहा साध्वी प्रज्ञा मेरे से बहुत बड़ी हैं, वह महामंडलेश्वरी हैं, मेरी तुलना उनसे नहीं की जा सकती, मैं किसी काम की नहीं हूं.' 

इसके बाद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर भी खुलकर मैदान में आ गई हैं. खबर है कि पार्टी में गुटबाजी के लिए साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के तेवर एक बड़ा कारण बन गए हैं. यही कारण है कि भोपाल में साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को बीजेपी के स्थानीय कई नेता सहयोग नहीं कर रहे हैं. 

Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc