गोपाल भार्गव के खिलाफ आधा दर्जन से ज्यादा मामलों में जांच के आदेश


''पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और सीएम कमलनाथ की दोस्ती कौन नहीं जानता. हाल ही में सीएम कमलनाथ, शिवराज सिंह चौहान को जन्मदिन की बधाई देने के लिए उनके घर तक चले गए थे. वो खाली हाथ नहीं गए थे. एक शानदार बर्थडे गिफ्ट भी ले गए थे. वह बर्थडे गिफ्ट था गोपाल भार्गव के खिलाफ आधा दर्जन से ज्यादा मामलों में जांच के आदेश.'' 

सीएम कमलनाथ ने अपने मित्र शिवराज सिंह चौहान की राजनीति में रोड़ा बनकर सामने आए नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ का घेराव ​शुरू कर दिया है. सिंहस्थ घोटाला, नर्मदा प्लांटेशन घोटाला और मंदसौर किसान गोलीकांड में शिवराज सरकार को क्लीनचिट देने वाली कमलनाथ सरकार ने गोपाल भार्गव के खिलाफ आधा दर्जन से ज्यादा मामलों में जांच के आदेश दिए हैं. 

बताया जा रहा है कि सभी मामले पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के हैं. गोपाल भार्गव, इस विभाग के मंत्री हुआ करते थे. इधर गोपाल भार्गव का कहना है कि सरकार सभी मामलों की सीबीआई जांच करा ले, एक भी मामले में दोषी मिलूं तो फांसी पर चढ़ा देना. ध्यान दिला दें कि पंडित गोपाल भार्गव की नेता प्रतिपक्ष के पद पर नियुक्ति शिवराज सिंह चौहान की मर्जी से खिलाफ हुई है. शिवराज सिंह चौहान लगातार यह कोशिश कर रहे हैं कि भाजपा और विधायक दल पर उनका कब्जा बरकरार रहे. वो खुद नेता प्रतिपक्ष बनना चाहते थे, परंतु विरोधियों की लॉबिंग के चलते शिवराज रेस से बाहर हुए. 


Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc