बातचीत से सुलझेगा अयोध्या विवाद, सुप्रीम कोर्ट ने मामला मध्यस्थता के लिए सौंपा


सुप्रीम कोर्ट ने राम जन्म भूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामला शुक्रवार को मध्यस्थता के लिए भेज दिया। कोर्ट ने सेवानिवृत्त न्यायाधीश एफ एम आई कलीफुल्ला को मध्यस्थता के लिये गठित तीन सदस्यीय समिति का अध्यक्ष नियुक्त किया है। प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय संविधान पीठ ने कहा कि पैनल के अन्य सदस्यों में आध्यात्मिक गुरू श्री श्री रविशंकर और वरिष्ठ अधिवक्ता श्रीराम पंचू भी शामिल हैं। 

खास बातें

  • मध्यस्थता के लिए सुप्रीम कोर्ट ने तीन सदस्यों ́का पैनल तय किया
  • सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज जस्टिस कलीफुल्ला पैनल के अध्यक्ष
  • श्रीश्री रविशंकर और वरिष्ठ वकील श्रीराम पंचू सदस्य
  • अयोध्या में ही होगी मध्यस्थता, मीडिया रिपोर्टिंग पर रोक
  • एक हफ्ते में ́मध्यस्थता की प्रक्रिया शुरू होगी, चार हफ्ते में अंतरिम रिपोर्ट- बात कहां तक पहुंची
  • आठ हफ्ते में फाइनल रिपोर्ट देनी होगी, बात बनी या नहीं
Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc