आरआई पटवारियों को दफ्तर में घुसकर धमकाने वाले फर्जी अर्जीनवीस के खिलाफ धनौरा थाने में दर्ज हुई एफ आईआर


सिवनी/धनौरा-  राजनीति में नेतागिरी और छुटभैया नेताओं की दादागिरी चरम पर है. छुटभैया नेता कार्यकर्ता अपने आप को कद्दावर नेताओं से कम नहीं समझ रहे और अपनी नेतागिरी की गर्मी को सरेआम गुंडागर्दी करके चमकाते फिर रहे हैं. विधायक और बडे- नेता के साथ फोटो सैशन कराकर अपने को नेताओं का खास बनकर नेतागिरी की धौंस और धमकी देना जैसे कि परंपरा हो गई हो. 

ऐसा ही एक मामला सिवनी जिले के धनोरा  क्षेत्र में आया है, जहां अपने को भारतीय जनता पार्टी और बजरंग दल का नेता बताने वाले एक छुटभैया नेता/ कार्यकर्ता ने  विधायक  का अपने को खास बताते हुए और विधायक की धौंस देते हुए धनौरा तहसील के सालीवाडा, सलेमा हल्के के पटवारी को राजस्व निरीक्षक कार्यालय में घुसकर धमका डाला, अपने आप को विधायक का खास बताने वाला राजेश बकौडे तहसील कार्यालय धनौरा के सामने बिना किसी लाईसेंसी दस्तावेजों के बकील का मुंशी और अर्जीनवीस बतौर (बनकर) कार्य करता है, साथ ही नेताओं की धौंस बताकर अपनी  नेतागिरी चमकाता फिरता है. 

बीते दिनो धनोरा के राजस्व निरीक्षक कार्यालय में शासकीय कार्य कर रहे राजस्व निरीक्षक और पटवारियो व कोटवार के बीच पहुच कर राजेश बकौडे ने तेज आवाज में सालीवाडा, सलेमा के पटवारी को धमकाते डराते हुये अपनी नेतागिरी दिखाई और  अपने को विधायक का खास बताते हुए राजस्व निरीक्षक कार्यालय के अंदर घुसकर शासकीय कार्य में विवधान डाला. इतना ही नहीं अनर्गल नियमविरूध कार्य कराने और पटवारी द्वारा नियमविरूध कार्य करने से मना करने पर दबाव डालकर अपनी नेतागिरी के चलते गुंडागर्दी करते हुये देख लेने और अपनी समाज(जाति) की बहुता की बात करते हुये धमकी दे डाली. 


बताया जाता है ग्राम पंचायत सालीवाडा और सलेमा ग्राम पंचायत के ग्रामों में ना तो छुटभैया नेता और फर्जी अर्जीनवीस राजेश बकौडे की जमीन है और ना ही कोई निजी काम केवल और केवल अपनी आर्थिक दलाली के काम और राजनीति चमकाने के साथ गुंडागर्दी में माहिर राजेश बकौडे नियमविरूध काम कराने अपने को बडे- नेताओं का खास बताकर अपनी नेतागिरी और गुंडागर्दी मे उतारु था. वैसे राजस्व निरीक्षक कार्यालय में घुसकर शासकीय कार्य मे खल्ल विवधान और धमकी देने पर फोन कॉल डिटेल एंव लिखित शिकायती पत्र से सालीवाडा सलेमा के पटवारी सतीश सोनी द्वारा श्रीमती भावना मलगाव तहसीलदार धनौरा को राजस्व निरीक्षक सुकमन कुलेश के साथ जाकर उक्त घटना की मौखिक व लिखित जानकारी कार्यवाही हेतु 12 जनवरी को ही की गई थी. जहा शासकीय कर्मचारियों व कार्य में रुकावट के मामले मे गम्भीरता दिखाकर तहसीलदार धनौरा के द्वारा कार्यालयीन पत्र क्रमांक 494 दिनांक 12/1/2019 एंव पटवारी का आवेदन को थाना प्रभारी को कार्यवाही हेतु पत्र जारी किया गया था, परन्तु राजनैतिक प्रभाव के चलते सम्बन्धित विभाग /कार्यालय के द्वारा मामले मे हिलाहवाली कर पर्दा डाला गया. 

मामले में कार्रवाई ना होती देख संबंधित पटवारी के द्वारा जिला कलेक्टर कार्यालय एवं पुलिस अधीक्षक सिवनी को लिखित पत्र देकर कार्यवाही का आग्रह किया गया, जहां सिवनी- कलेक्टर कार्यालय दिनांक 18/1/2019 व घंसौर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व के दिनांक 29/1/2019 के पत्र रिपोर्ट के सम्बन्ध मे मांग की गई. वहीं तहसीलदार धनोरा के द्वारा 12 जनवरी को लिखित पत्र पर कार्यवाही नहीं होने पर पुनः तहसीलदार धनोरा के द्वारा कार्यालयीन पत्र क्रमांक 547 दिनांक  8 फरवरी 2019 को पुनः थाना प्रभारी धनोरा को स्मरण पत्र लिखकर कार्यवाही के संबंध में जानकारी चाही गई, तब कहीं जाकर थाना धनोरा के द्वारा दिनांक 8 फरवरी 2019 को राजस्व निरीक्षक व पटवारियो के बयान लिए गये थे. 

अब जाकर मामले को पूर्ण रूप देने के लिए खानापूर्ति के उद्देश्य से संबंधित फर्जी अर्जीनवीस राजेश बकोड़े के खिलाफ धनोरा थाने में धारा 186, 506, 507 के तहत दिनांक 09/2/2019 को मामला पंजीबद्ध किया गया है. शासकीय कार्यालयों में राजनीति व छुटभैया नेताओं की नेतागिरी और अनैतिक नियम विरुद्ध कार्यों के लिए दबाव  बनाने वाले के खिलाफ स्वयं  तहसीलदार एवं कार्यपालिक दंडाधिकारी धनोरा के द्वारा लिखे गए पत्र के बावजूद थाना धनोरा के द्वारा समय पर कोई भी कार्यवाही ना करना संदेह को पैदा/जन्म देता है कि आखिरकार जिला कार्यालय से और पुनः तहसीलदार एवं कार्यपालक दंडाधिकारी धनोरा के द्वारा  स्मर्ण पत्र जारी किया गया, तब कहीं जाकर फर्जी अर्जीनवीस राजेश बकौडे के खिलाफ कार्यवाही करने धनौरा पुलिस की कलम चल पाई.   

आम चर्चा में है कि आखिर क्या कारण था कि तहसीलदार एवं कार्यपालिक दंडाधिकारी धनोरा के पत्र के बाद भी धनोरा पुलिस को कार्रवाई करने में इतना एक माह का समय लगा. कहीं फर्जी अर्जीनवीस राजेश बकौड़े हकीकत में विधायक का खास तो नहीं?







Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc