कुसमारिया के बाद अब गौर देंगे बीजेपी को अगला बड़ा झटका, लोकसभा के लिए भोपाल से हो सकते हैं कांग्रेस उम्मीदवार?



बीजेपी के कद्दावर मंत्री कुसमारिया के कांग्रेस में शामिल होने के बाद अब बीजेपी सरकार में मुख्यमंत्री रहे वरिष्ठ नेता बाबूलाल गौर कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं. श्री गौर भोपाल से लोकसभा के लिए कांग्रेस उम्मीदवार हो सकते हैं, हालांकि अभी यह राजनीति के क्षेत्र की केवल बातें हैं, लेकिन इनके सच होने से भी इनकार नहीं किया जा सकता. बजह साफ़ है कि बीजेपी में वरिष्ठ नेताओं की उपेक्षा की ख़बरें आम हो गई है. श्री गौर भी पार्टी की उपेक्षा झेल रहे बताये जाते हैं. ''मेरी कोई महत्वकांक्षा नहीं है'', कहने वाले श्री गौर आगामी लोकसभा चुनाव में भोपाल से कांग्रेस उम्मीदवार हो सकते हैं. 

बीजेपी में कुसमारिया का सम्मान नहीं रह गया था, कांग्रेस के महाकुम्भ में डुबकी लगाकर अच्छा ही किया -बाबूलाल गौर


हाल में कल राहुल गांधी की किसान आभार सभा में बीजेपी के कद्दावर मंत्री कुसमारिया के कांग्रेस में शामिल होने के बाद आज कमलनाथ सरकार में केन्द्रीय मंत्री हर्ष यादव से मुलाक़ात में बीजेपी के दिग्गज पूर्व मुख्यमंत्री रहे वरिष्ठ नेता बाबूलाल गौर ने कहा है कि कुसमारिया ने भाजपा छोड़कर सही फैसला किया. 

उन्होंने कहा कांग्रेस में शामिल होना उनका निजी मामला है, पर यह भी सच है कि बीजेपी में कुसमारिया का सम्मान नहीं रह गया था. वे बीजेपी में दु:खी थे. ऐसे में कांग्रेस के महाकुम्भ में डुबकी लगाकर कुसमारिया ने अच्छा ही किया. 

''मेरी कोई महत्वकांक्षा नहीं है'', कहने वाले श्री गौर आगामी लोकसभा चुनाव में भोपाल से हो सकते हैं कांग्रेस उम्मीदवार?

बीजेपी सरकार में मुख्यमंत्री रहे वरिष्ठ नेता बाबूलाल गौर भी उपेक्षा से नाराज चल रहे बताये जाते हैं, हालांकि हाल के विधानसभा चुनाव में वे अपनी बात दबंगता से मनवाने में कामयाब रहे. सूत्रों की मानें तो ''मेरी कोई महत्वकांक्षा नहीं है'', कहने वाले श्री गौर आगामी लोकसभा चुनाव में भोपाल से टिकिट चाहते हैं. इतना ही नहीं बीजेपी उन्हें टिकिट नहीं देती है तो वह कांग्रेस का दामन थाम सकते हैं. और कांग्रेस उन्हें भोपाल से लोकसभा के लिए अपना उम्मीदवार बना सकती है. 

श्री गौर कांग्रेस में शामिल होते हैं तो कांग्रेस को फायदा होगा  -केन्द्रीय मंत्री हर्ष यादव  

श्री गौर से मुलाक़ात के बाद मीडिया से बातचीत में मंत्री हर्ष यादव ने मुलाक़ात को निजी बताया है, लेकिन सूत्रों के हवाले से बताया जाता है कि उन्होंने श्री गौर को कांग्रेस में आने के लिए वैसा ही न्यौता दिया है, जैसा कि इसके पूर्व केन्द्रीय मंत्री आरिफ अकील विधानसभा चुनाव के दौरान दे चुके हैं. सूत्रों की जानकारी इस बात से भी सही साबित होती है कि मीडिया से बातचीत में हर्ष यादव ने माना कि श्री गौर कांग्रेस में शामिल होते हैं तो कांग्रेस को फायदा होगा.   

लगातार संपर्क में हैं कांग्रेस के, उड़ा रखी है बीजेपी की नींद 
इसके पूर्व भी श्री गौर की कांग्रेस से नजदीकियों की ख़बरें लगातार आये दिन सामने आती रही हैं. वर्तमान कमलनाथ सरकार में केन्द्रीय मंत्री आरिफ अकील के साथ श्री गौर के काफी करीबी रिश्ते बताये जाते हैं. विधानसभा चुनाव के समय श्री गौर ने अब मंत्री श्री अकील को कहा था 'कांग्रेस जीत रही है आप मंत्री बनेंगे.' इसी के साथ श्री गौर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के साथ भी मुलाक़ात कर चुके हैं. 


दिग्विजय सिंह ने कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़ने का ऑफर दिया -श्री गौर 
18 जनवरी को दिग्विजय सिंह ने श्री गौर से मुलाकात की थी. मुलाक़ात के बाद श्री गौर ने बताया था कि उन्हें दिग्विजय सिंह ने कांग्रेस के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़ने का ऑफर दिया था. श्री गौर ने साफ कहा था कि वे इस ऑफर पर विचार कर रहे हैं. इसके बाद श्री गौर से केन्द्रीय मंत्री जीतू पटवारी भी मुलाक़ात कर चुके हैं. केन्द्रीय मंत्री जयवर्धन सिंह के साथ भी श्री गौर मंच साझा कर चुके हैं. श्री गौर के कांग्रेस में संपर्क में लगातार रहने और इस तरह की बातें फैलने से बीजेपी की नींद उड़ी हुई है. 


Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc