सरकार जनता की भावनाओं की कद्र करते हुए मंदिर निर्माण का एक मार्ग प्रशस्त करे -भैया जी जोशी


राममंदिर निर्माण के लिए कोर्ट की राह क्यों देख रहा है आरएसएस, भैया जी जोशी ने बताई बजह ''किसी के साथ कोई संघर्ष नहीं, हम इस मुद्दे का शांतिपूर्ण तरीके से समाधान चाहते हैं.''

आरएसएस के सरकार्यवाह सुरेश जोशी (भैया जी) ने भी सरकार द्वारा राममंदिर निर्माण के लिए संसद में कानून बनाने या अध्यदेश लाने की वकालत की है. उन्होंने कहा है कि इस मंदिर निर्माण के जरिये पूरे विश्व में एक संदेश देने की कोशिश होगी और इसीलिए वे मंदिर निर्माण में किसी तरह की हिंसात्मक गतिविधि नहीं चाहते, अन्यथा विश्व समुदाय में इसका गलत सन्देश जाएगा. 

यही कारण है कि इस मसले का हल आज तक न्यायालय और संसद के जरिये की जा रही है. उन्होंने वर्तमान सरकार और न्यायपालिका से भी अपील की कि वह जनता की सोच को समझे और उसकी भावनाओं की कद्र करते हुए मंदिर निर्माण का एक मार्ग प्रशस्त करे. 

विहिप द्वारा दिल्ली के रामलीला मैदान में रविवार को आयोजित एक धर्मसभा को संबोधित करते हुए भैया जी जोशी ने कहा कि जब तक अयोध्या में राममंदिर निर्माण नहीं होता है तब तक यह आंदोलन चलता रहेगा. हमारा किसी के साथ कोई संघर्ष नहीं है. हम इस मुद्दे का शांतिपूर्ण तरीके से समाधान चाहते हैं. उन्होंने कहा संघर्ष करना होता तो इतने समय तक सर्वोच्च न्यायालय की तरफ क्यों निहारते रहते. 

Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a comment

abc abc