विकास दुबे सरेंडर प्रायोजित, गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा पर लगे आरोप, MP की राजनीति में भूचाल


 नरोत्तम मिश्रा को मिली VVIP सुरक्षा पर ...
उज्जैन महाकाल मंदिर से गिरफ्तार गैंगस्टर विकास दुबे अब मध्य प्रदेश में राजनीतिक भूचाल लाने का काम कर रहा है. एक तरफ जहां विकास दुबे के नाम पर उत्तर प्रदेश में राजनीति गरम हो चुकी है, वहीं दूसरी ओर मध्यप्रदेश में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा पर आरोप लगाया है कि विकास दुबे के संपर्क नरोत्तम मिश्रा से पूर्व में रह चुके हैं एवं उनके द्वारा प्रायोजित सरेंडर विकास दुबे का हुआ है. कांग्रेस ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि यह पूरी तरह भारतीय जनता पार्टी की सरकार द्वारा संरक्षण दिया गया का मामला है. 


बिना संरक्षण के संभव ही नहीं
कांग्रेस पार्टी की ओर से दिग्विजय सिंह के साथ साथ संपूर्ण कांग्रेस ने एक साथ भारतीय जनता पार्टी पर आरोप लगाते हुए कहा है कि मध्य प्रदेश में विकास दुबे जिस हैसियत के साथ एवं जिस दमखम के साथ पहुंचा और उसकी गिरफ्तारी हुई है, उस स्थिति को देखते हुए मूर्ख से मूर्ख लोग भी अंदाज लगा सकते हैं कि यह सरेंडर प्रायोजित है. 

कांग्रेस ने आरोप लगाते हुए कहा है कि उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव के दौरान कानपुर से लगे हुए कुछ इलाकों में नरोत्तम मिश्रा लंबे समय तक रहे थे. उत्तर प्रदेश के लोकसभा चुनाव के प्रभारी के रूप में उन्होंने काम किया, वही इस समय उज्जैन के प्रभारी हैं. इसलिए सुलभता के साथ उज्जैन में विकास दुबे ने सरेंडर किया. 


वहीं दूसरी ओर कानपुर शूटआउट में मारे गए मंगाता डीएसपी देवेंद्र मिश्रा के परिजनों ने भी आरोप लगाया है कि उसके एक रिश्तेदार कमलकांत ने विकास दुबे को मध्यप्रदेश में गृह मंत्री के साथ हुई आपसी सांठगांठ के स्तर पर मिलीभगत करते हुए बचाया है. 

उत्तर प्रदेश के एडीजी प्रशांत कुमार ने कहा है कि बगैर किसी तत्व को जाने सरेंडर जैसी कोई बात नहीं की जानी चाहिए, हम सभी अलर्ट पर थे, अब अपराधी उज्जैन कैसे पहुंच गया, यह जांच का विषय है. 


उज्जैन में गेंगस्टर विकास दुबे की गिरफ्तारी पर इसलिए भी उठ रहे सवाल 
  • जैसी कि ख़बरें मिल रही हैं कल रात उज्जैन के एसपी कलेक्टर ने अचानक महाकाल मंदिर का निरीक्षण किया और वहां किसी के साथ बैठक की. 
  • कल ही अचानक महाकाल थाने का प्रभारी बदला गया. 





Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a comment

abc abc