किसान के साथ पुलिस की बर्बरता, कमलनाथ ने बताया जंगलराज, रातों रात हटाये गए कलेक्टर और एसपी

Guna Incident: गुना में पुलिस की बर्बरता का ...

गुना में दलित किसान के साथ पुलिस की बर्बरता के मुद्दे पर मध्य  प्रदेश का सियासी तापमान बढ़ने लगा है. कांग्रेस इस मुद्दे पर सरकार को घेरने में लगी है. पूर्व सीएम कमलनाथ ने इसे प्रदेश में जंगलराज का उदाहरण करार दिया तो सीएम शिवराज सिंह ने तत्काल कार्रवाई कर संकेत दे दिए कि बीजेपी इस मुद्दे पर कांग्रेस को आक्रामक होने देना नहीं चाहती.


रातों रात हटाये गए कलेक्टर और एसपी

गुना में दलित किसान परिवार के साथ पुलिस की बर्बरता का वीडियो वायरल होने के साथ ही इस पर राजनीति भी शुरू हो गई है. कांग्रेस नेता प्रदेश की शिवराज सिंह चौहान (cm shivraj singh chouhan) सरकार को घेरने की कोशिश कर रहे हैं. दूसरी ओर, सरकार ने गुना के कलेक्टर और एसपी को हटाने के साथ उच्चस्तरीय जांच का ऐलान कर यह जता दिया है कि वह एक्शन मोड में है और दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.

कांग्रेस की ओर से घेरने की शुरुआत पूर्व सीएम कमलनाथ (kamal nath) ने की. उन्होंने ट्वीट कर घटना पर दुख जताया और कहा कि गुंडे-अपराधी बेखौफ हो रहे हैं और प्रदेश जंगलराज की ओर लौट रहा है. पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने भी इस मुद्दे पर सरकार पर निशाना साधा.






बीजेपी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scindia) ने भी ट्वीट कर घटना की निंदा की और कहा कि उन्होंने सीएम शिवराज सिंह चौहान से दोषियों के खिलाफ कार्रवाई का अनुरोध किया है. इसके थोड़ी देर बाद ही प्रदेश सरकार एक्शन में आ गई. सीएम शिवराज सिंह चौहान (cm shivraj singh chouhan) ने गुना के कलेक्टर एस विश्वनाथन और एसपी तरुण नायक को पद से हटा दिया. देर रात राजेश कुमार सिंह को गुना का नया एसपी बनाने का आदेश भी सरकार ने जारी कर दिया.


Video में देखिए पुलिस की बर्बरता: मारते-मारते बेसुध कर दिया, महिला के कपड़े फाड़े

इधर, प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि घटना के उच्चस्तरीय जांच के आदेश दे दिए गए हैं. भोपाल से टीम गुना जाकर मामले की जांच करेगी और दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.


हालांकि, गुरुवार को इस मुद्दे पर प्रदेश का राजनीतिक पारा और गरमा सकता है. मामला दलित किसान का है और पुलिस की बर्बरता स्पष्ट दिख रही है. ऊपर से घटना ग्वालियर-चंबल संभाग में सिंधिया के प्रभाव वाले क्षेत्र में हुई है जहां उपचुनाव होने हैं. ऐसे में कांग्रेस इस मुद्दे को इतनी आसानी से छोड़ देगी, इसकी संभावना कम है. दूसरी ओर, प्रदेश सरकार भी सख्त कार्रवाई के साथ जांच का ऐलान कर डैमेज कंट्रोल करने में लग गई है.


NBT

राहुल गांधी ने की शिवराज सिंह से इस्तीफा की मांग 

Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a comment

abc abc