VIDEO समर्थन दे रही बसपा MLA के खिलाफ सड़क पर उतरे जयंत मलैया के बेटे, बसपा MLAने कहा 'सिद्धार्थ मलैया पागल हो गये हैं, इलाज कराया जाए'



शिवराज सरकार की नई मुसीबत
प्रदेश में भाजपा सरकार को समर्थन दे रही बसपा विधायक रामबाई के खिलाफ भाजपा सरकार के पूर्व मंत्री जयंत मलैया के पुत्र युवा भाजपा नेता सिद्धार्थ मलैया ने बिगुल बजा कर प्रदेश में भाजपा की शिवराज सरकार की मुसीबत को बढ़ा दिया है, हालांकि उन्होंने कहा है कि उनकी मुहिम को कांग्रेस भाजपा के चश्मे से न देखें, लेकिन ऐसा होता है क्या? 


सिद्धार्थ मलैया ने आज दमोह की सड़कों पर रामबाई के खिलाफ प्रदर्शन कर पुलिस को ज्ञापन सौंपा. दूसरी ओर भोपाल में रामबाई दहाड़ीं, बोली सिद्धार्थ मलैया पागल हो गये हैं, उनका ग्वालियर के पागल खाने में इलाज कराया जाए.

लगभग एक साल पहले दमोह में हुए देवेन्द्र चौरसिया हत्याकांड में रामबाई और उनके पति को आरोपी बनाने के लिए सिद्धार्थ ने कमर कस ली है. चौरसिया के बेटे सोमेश्वर चौरसिया के साथ कल उन्होंने पत्रकार वार्ता की और सैकड़ों लोगों के साथ दमोह में प्रदर्शन कर डाला. सिद्धार्थ ने साफ कहा कि इस मामले में एक साल से उनके पिता जयंत मलैया ने उन्हें रोक रखा था, क्योंकि उनकी शैली ऐसी नहीं है. सिद्धार्थ ने कहा कि उनकी मुहिम को कांग्रेस भाजपा के चश्मे से न देखें. वे न्याय की लड़ाई के लिए मैदान में उतरे हैं. सिद्धार्थ ने पुलिस अधिकारियों से कहा कि आप नियमानुसार कार्रवाई करें.


रामबाई विधायक नहीं रहेंगी
सिद्धार्थ ने कहा कि अब जनता सड़क पर आ गई है, अब रामबाई विधायक नहीं रहेगी और रहेगी तो मप्र में नहीं रहेगी.

रामबाई का पलटवार 'मलैया पागल हो गये हैं, इलाज कराया जाए'  
इधर भोपाल में बुंदेली बौछार से खास बातचीत में रामबाई ने कहा कि मलैया पागल हो गये हैं, उनका ग्वालियर के पागलखाने में इलाज कराना चाहिए. उन्होंने कहा कि मलैया के कॉलेज की भूमि का विवाद है, इस संबंध में सुधा मलैया ने उन्हें कई फोन किये, लेकिन वे उनके पास नहीं गईं. उन्होंने चौरसिया हत्याकांड में अपने परिवार को निर्दोष बताते हुए कहा कि मलैया के बाप भी हमारी विधायकी नहीं छीन सकते.




Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a comment

abc abc