टीकमगढ़ में कोरोना पीड़ित की मौत : पन्ना अस्पताल में पंहुचा वायरस





छतरपुर मप्र / धीरज चतुर्वेदी 

पूर्व आशंकाओं के मुताबिक बुंदेलखंड में कोरोना ने अपने पैर पसारने शुरू कर दिये हैं. टीकमगढ़ के पलेरा ब्लॉक के गांव रजपुरा के संक्रमित एक युवक की मंगलवार को सागर के मेडिकल हॉस्पीटल में उपचार के दौरान मृत्यु हो गई. साथ ही मृतक की पत्नी सहित पलेरा अस्पताल की नर्स और एम्बुलेंस चालक भी वायरस ग्रसित पाया गया है. पन्ना जिला अस्पताल में हाई रिस्क ड्यूटी पर तैनात कोरोना के सेम्पल लेने वाली नर्स  के पॉजिटिव होने से हड़कंप मच गया है. नर्स के सम्पर्क में आये 24 लोगो को पुराने अस्पताल में बनाये गये क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया है, जिनकी सेम्पल रिपोर्ट आने का इंतज़ार है. 


टीकमगढ़ के हालात पर वरिष्ठ पत्रकार नरेन्द्र अरजरिया ने बताया कि पलेरा ब्लॉक के ग्राम रजपुरा मे 29 मई को वंशकार परिवार किराये के वाहन से अपने गांव लौटा था. जिसमे परिवार के मुखिया को  तबियत ख़राब होने पर उसे गांव से पलेरा अस्पताल लाया गया था. टीकमगढ़ जिला अस्पताल लाने के बाद उसे सागर मेडिकल हॉस्पीटल मे उपचार हेतु भेज दिया गया था. जहाँ उसकी मृत्यु हो गई. मृतक कि पत्नी कि रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है वहीँ पलेरा अस्पताल कि नर्स और एम्बुलेंस चालक भी वायरस संक्रमित पाया गया है. ज्ञात हो कि टीकमगढ़ और निवाड़ी जिला मिलाकर कुल 11 पॉजिटिव मिले है जिसमे से छह लोग स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके है. 

पन्ना जिले मे भी जिला अस्पताल मे कोरोना के सेम्पल लेने कि ड्यूटी पर तैनात नर्स का पॉजिटिव मिलने से हाथ पैर फूल गये है. पन्ना शहर के धाम मुहल्ले कि निवासी इस नर्स का तबियत ख़राब होने पर 31 मई को सेम्पल जाँच हेतु भेजा गया था. 1 जून कि रात इसका सेम्पल पॉजिटिव आया. चूकि संक्रमित नर्स का सम्पर्क दायरा बढा होने से एहतियात बरते जा रहे है. नर्स कि रिपोर्ट पॉजिटिव आते ही रात मे 24 लोगो को पुराने अस्पताल के क्वारंटाइन सेंटर मे रख दिया गया. जिस धाम मोहल्ले मे नर्स का निवास है वहां गुजरात से वापिस आया एक संक्रमित निकल चुका है. पन्ना जिले मे संक्रमितों कि संख्या 20 है जिसमे 17 एक्टिव केस है.




Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a comment

abc abc