राज्यपाल लालजी टंडन वेंटिलेटर पर, हालत नाजुक

  

मध्यप्रदेश के  राज्यपाल लालजी टंडन को 11 जून को पेशाब में दिक्कत के साथ बुखार होने पर परिजनों ने उन्हें शहीद पथ स्थित मेदांता हॉस्पिटल  में भर्ती कराया गया था. शुरुआती पड़ताल में डॉक्टरों को पेशाब में संक्रमण का पता चलने पर इलाज शुरू कर दिया. उन्हें बुखार और पेशाब की परेशानी में सुधार हुआ. बुखार की वजह से उनकी कोरोना जांच भी हुई. हालांकि यह रिपोर्ट नेगिटिव आई है.

इसके बाद राज्यपाल के लीवर में दिक्कत पाए जाने पर सीटी गाइडेड प्रोसीजर किया गया. प्रोसीजर के उपरांत पेट में रक्त का स्राव बढ़ गया, जिसके चलते उनका इमरजेंसी ऑपरेशन किया गया. ऑपरेशन के बाद उनको आईसीयू में रखा गया है. इसके बाद आज सोमवार को राज्यपाल लालजी टंडन की हालत सीरियस हो गई. उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया है. 

मध्य प्रदेश के राज्यपाल लाल जी टंडन को बुखार, पेशाब संबंधी समस्या थी. गत 11 जून को सांस लेने में भी तकलीफ होने लगी. ऐसे में उन्हें राजधानी के शहीद पथ स्थित मेदांता हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया. यहां डॉक्टरों ने शनिवार को पहले जांच में यूरेनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन पाया. ऐसे में एंटीबायोटिक की डोज दी गईं. संक्रमण कम होने पर बुखार भी हल्का हुआ. बुखार की वजह से उनकी कोरोना जांच भी हुई. यह रिपोर्ट नेगिटिव आई. इसके बाद डॉक्टरों ने रात में ही लिवर की जांच का फैसला किया. इसमें बारीकी से देखने के लिए सीटी गाइडेड प्रोसीजर किया गया. प्रोसीजर के बाद पेट के ओमेंटम से रक्तस्राव होने लगा. यह रक्त पेट में इकट्ठा हो रहा था, जो कि घातक हो सकता था. लिहाजा, डॉक्टरों ने तुंरत ऑपरेशन का फैसला किया.

Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a comment

abc abc