कोरोना के साए में राजभवन, कराया गया कोरोना टेस्ट, ‘वर्क फ्रॉम होम' के साथ अब रहेगी ऐसी व्यवस्था



राजभवन परिसर में निवास करने वाले कर्मचारियों और उनके परिजन में से सात लोग कोविड 19 से संक्रमित पाए गए हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। परिसर के कर्मचारियों के आवास क्षेत्र को कोविड 19 प्रभावित कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित करके 'स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर' (एसओपी) को सुनिश्चित किया गया है। राजभवन परिसर में निवासरत सभी परिवारों को मेडिकल इमरजेंसी को छोड़कर तीन दिवस तक बाहर जाने पर प्रतिबंध रहेगा। इसके साथ परिसर में स्थित विभिन्न कार्यालयों को आगामी आदेश तक के लिए बंद कर दिया गया है। आज गुरूवार को राजभवन में कोरोना टेस्ट करवाया गया। कोरोना संक्रमण के मद्देनजर जरूरी सावधानियों की प्रतिदिन उच्चस्तरीय समीक्षा की जाएगी। 


राज्यपाल के सचिव मनोहर दुबे ने गुरुवार को बताया कि आगंतुकों के आवागमन, कर्मचारियों के स्वास्थ्य आदि की मॉनिटरिंग के लिए दैनिक समीक्षा की व्यवस्था की गई है, ताकि परिस्थिति अनुसार व्यवस्थाओं को सुचारू बनाने के तत्काल कार्य किए जा सकें। उन्होंने कहा कि राजभवन में कोविड 19 की चुनौती का सामना करने के लिए सभी आवश्यक सावधानियों के पालन को सुनिश्चित किया गया है। इसके लिए राजभवन परिसर में क्षेत्र विशेष अनुसार व्यवस्था की गई है। कर्मचारियों के आवास वाले कंटेनमेंट क्षेत्र और शेष क्षेत्रों के लिए वर्गीकृत व्यवस्था की गई है। उसी के अनुसार सभी आवश्यक हिदायतें और एहतियात बरतने की व्यवस्था है।

परिसर में स्थित सभी कार्यालय बंद 
राज्यपाल के निवास और कार्यालय लाल कोठी को ‘इनर जोन' बनाकर आवागमन व्यवस्थाओं की निगरानी की जा रही है। कार्यालयों के कर्मचारियों को ‘वर्क फ्रॉम होम' के निर्देश दिए गए हैं। परिसर स्थित कार्यालयों को अस्थाई रूप से बंद किया गया है। आवश्यकता होने पर ही कर्मचारियों को बुलाया जाएगा। उन्होंने बताया कि राजभवन को पृथक क्षेत्र दर्शाने के लिए बैरिकेडिंग कर सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित की गई हैं। प्रशासन द्वारा घोषित किए गए कंटेनमेंट क्षेत्र में निर्धारित प्रोटोकाल और स्टैंडर्ड आॅपरेटिंग प्रोसीजर का कड़ाई से पालन करवाया जा रहा है। कंटेनमेंट क्षेत्र के दोनों ओर एक चार का गार्ड लगाकर आवश्यक सुरक्षा सुनिश्चित की गई है। राजभवन में प्रवेश करने वाले व्यक्तियों के मोबाइल फोन में आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करवाना सुनिश्चित किया गया है।


नियमित होगा स्वास्थ्य परीक्षण
आगंतुकों की थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है। राजभवन परिसर में निवासरत और कार्यरत सभी अधिकारियों- कर्मचारियों की नियमित स्वास्थ्य जांच की जाएगी। राजभवन के इनर जोन में कार्यरत किचिन और अटेंडेंट आदि के स्वास्थ्य की नियमित जानकारी लेकर उनका उत्तम स्वास्थ्य सुनिश्चित किया जाएगा। इनर जोन में प्रवेश करने वाले सभी व्यक्तियों का टेम्परेचर स्केन कर उसका रिकॉर्ड रखा जाएगा। राजभवन के गेट नं 1 एवं 3 को पूर्णतः सील किया गया है।

अब होगी ऐसी व्यवस्था
  • परिसर में आवश्यक सेवाओं जैसे उद्यानिकी, साफ-सफाई, गौशाला, नल, जल, बिजली, मोबाइल, टीवी आदि की व्यवस्थाओं के लिए कर्मचारियों को प्रवेश दिया जा सकेगा। सभी को सुरक्षा मापदंडों का पालन करना होगा। शेष किसी अन्य परिस्थिति में किसी व्यक्ति को सक्षम अधिकारी की अनुमति के बाद ही प्रवेश दिया जाएगा।

  • सभी वस्तुओं का सैनिटाइजेशन होने के बाद ही राजभवन के गेट नं 02 से प्रवेश की अनुमति होगी। परिसर में निवासरत कर्मचारियों से आवश्यकता पड़ने पर कार्य लिया जा सकता है। बाहर से आने वाले कर्मचारियों को भी आवश्यकता अनुसार कार्य हेतु समय-समय पर बुलाया जा सकेगा। कंटेनमेंट और शेष क्षेत्रों के वाहनों के लिए आवश्यक सावधानी बरतने और आवागमन प्रतिबंध के नियमों की निगरानी के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया गया है। 

  • राजभवन परिसर में सभी आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति में सोशल डिस्टेंसिंग की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। राजभवन में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति के लिए नगर निगम भोपाल से एक नोडल अधिकारी रहेगा।

  • राज्यपाल के निवास क्षेत्र में बिना अनुमति के किसी भी व्यक्ति का आवागमन नहीं होगा। राज्यपाल की ड्यूटी में कार्यरत कर्मचारियों को उसी क्षेत्र में ठहराने की व्यवस्था की गई है। सभी कर्मचारियों को कोरोना टेस्ट करवाने के उपरांत स्वस्थ कर्मचारियों को ही इस क्षेत्र में ठहराया गया है।

  • राज्यपाल के निवास क्षेत्र में ठहरने वाले कर्मचारियों द्वारा मास्क, ग्लब्स और सैनिटाइजेशन जैसे सुरक्षा मानकों का पूर्णतः प्रयोग सुनिश्चत किया जा रहा है। राज्यपाल से मुलाकात से पूर्व सभी प्रकार की सावधानियां और प्रोटोकाल जैसे दो गज दूरी रखने, मास्क एवं शू कव्हर पहनने, सेनेटाइजेशन और थर्मल स्क्रीनिंग आदि सुनिश्चित करने के बाद ही मुलाकात की अनुमति की व्यवस्था है। 





Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a comment

abc abc