महिला कलेक्टर तन्वी ने शराब बंदी का साहस दिखाया




प्रदेश के 47 जिलों में 2700  से अधिक शराब दुकानें आज खुल गई हैं, लेकिन खंडवा की महिला कलेक्टर तन्वी सुन्द्रियाल ने सरकारी आदेश से हटकर अपने जिले में शराब बंदी का साहस दिखाया है. शराब बंदी का साहस दिखा कर सुन्द्रियाल ने क्षेत्र की जनता पर जो छाप छोड़ी है, वो प्रदेश और देश की जनता के दिलों पर भी असर करेगी और हमेशा कायम रहेगी. 


प्रदेश और देश में खंडवा का एक मात्र ऐसा जिला बन गया है, जहाँ सरकार के आदेश के बावजूद 17 मई लॉकडाउन की अवधि तक शराब दुकानें नही खुलेंगी. कलेक्टर सुन्द्रियाल का ये आदेश पूरे देश में परिवर्तन लाने की पहल करने वाला होकर, तहलका मचा देने वाला हो सकता है. शराब दुकानों के खुलने पर, केन्द्र और राज्य सरकारों, स्थानीय प्रशासन के आदेशों, निर्देशों का पालन नही होने की स्थिति पूरे देश के राज्यों से सामने आ चुकी हैं, एक दिन में कई देशों से अधिक कोरोना पॉजिटिव भारत में सामने आ गए.

उल्लेखनीय है मध्यप्रदेश में शराब और भांग की दुकानों को खोलने के लिए मंत्रालय में बैठे अफसर और नेता अपने ही आदेशों को बार-बार बदल रहे है. इस बीच प्रदेश के 47 जिलों में 2700  से अधिक शराब दुकानें आज खुल गई हैं. शेष जिलों में कलेक्टर और आबकारी अफसरों ने शराब और भांग की दुकानों को खोलने की तैयारी कर रहे हैं. जिले के अफसरों की मजबूरी है कि उन्हें मंत्रालय से जारी आदेश का पालन करवाना है. 




Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a comment

abc abc