अच्छी भली सरकार फूंक ताप कर बराबर करने के बाद अब कमलनाथ ये बोले





अच्छी भली सरकार फूंक ताप कर बराबर करने के बाद सेठ और राजा ठीकरा फोड़ने सर तलाश रहे हैं, यह टिप्पणी राजधानी भोपाल के वरिष्ठ पत्रकार सोमदत्त शास्त्री ने हाल के ताजा घटनाक्रम पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के बयान कि मैंने 'ये' नहीं 'ये' कहा था, को लेकर दी है.  

मीडिया ने वह प्रचारित किया जो मैंने कहा ही नहीं 
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ जी ने स्पष्ट किया है कि आज उनसे कुछ प्रमुख चैनल के पत्रकार अनौपचारिक मुलाकात के लिए उनके निवास आए थे. इस मुलाक़ात के दौरान उनसे वर्तमान राजनीतिक घटनाक्रम पर व विभिन्न मुद्दों पर अनौपचारिक चर्चा चल रही थी. 


उस अनौपचारिक चर्चा में मेरी सरकार गिरने के मुद्दे पर बात आने पर पर मैंने उन्हें कहा कि स्वयं मुझको और दिग्विजय सिंह को कुछ विधायकों ने झूठा विश्वास दिलाया था कि वह वापस लौट आएंगे, उनके झूठे विश्वास पर हम दोनों ने भरोसा किया और हम अपनी सरकार नहीं बचा पाए.

यह सारी चर्चा अनौपचारिक थी और इसमें कहीं भी मैंने यह नहीं कहा कि दिग्विजय सिंह ने झूठा विश्वास भरा था, इसके कारण सरकार नहीं बची. पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ  का कहना है इस अनौपचारिक चर्चा को पूरी तरह से ग़लत ढंग से प्रचारित व प्रसारित किया गया है. कांग्रेस के मीडिया समन्वयक नरेन्द्र सलूजा के हवाले से यह बात सामने आई है. 

मजेदार बात यह है कि सोशल मीडिया यूजर्स की प्रतिक्रियाएं देखें तो पता चलता है कि आज भी लोग उनकी पूर्व की बात को ही ज्यादा सही और सटीक मान रहे हैं. कहा जा सकता है 'रात गई बात गई', बेहतर तो यह होगा कि कल क्या हुआ उसे छोड़ें. आगे आकर अपनी गलती स्वीकारें, कुछ विधायकों ने झूठा विश्वास दिलाया तब भी कहीं न कहीं आपकी ही कमी तो रही न. 

और अंत में    
जो हुआ सो हुआ अब आगे की सुध लेहू, अब तो जो दुसरी बात जो कही है, वह करके दिखाने का समय है कि 15 सीट जीत कर सरकार बनायेंगे. यदि ऐसे ही, वही राग कैसे हुआ, क्यों हुआ, लेकर बैठे रहे तो आप जो दुसरी बात जो कही है, वह नहीं कर पायेंगे. और लोग कहेंगे हमने तो पहले ही कहा था 'तुमसे न हो पायेगा नाथ..' 






Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a comment

abc abc