सच्चा दोस्त, जिसने आखिरी समय तक नहीं छोड़ा साथ, अमृत का सिर गोद में लेकर बैठा रहा मोहम्मद याकूब


View image on Twitter

मध्यप्रदेश / गुजरात से यूपी जा रहे मजदूर की ट्रक में तबीयत बिगड़ी, तो उसे कोरोना संक्रमित मानकर उतार दिया गया. ऐसे में  उसका दोस्त मोहम्मद याकूब भी साथ उतर गया और उसे इलाज के लिए ले गया, लेकिन इलाज के दौरान उसके दोस्त अमृत  की मौत हो गई. 


आज जब हम हिंदु-मुस्लिम करते लोगों को देख रहे हैं ऐसे में इन दोस्तों की जोड़ी को जय वीरू के रूप में सराहा जा रहा है. एक सच्चा दोस्त वही, जिसने आखिरी समय तक नहीं छोड़ा.. अमृत का सिर गोद में लेकर बैठा रहा मोहम्मद याकूब. 
मध्य प्रदेश / गुजरात से यूपी जा रहे मजदूर की ट्रक में तबीयत बिगड़ी, इलाज के दौरान मौत, मुस्लिम दोस्त ने आखिरी समय तक नहीं छोड़ा साथ.https://www.bhaskar.com/amp/local/mp/news/shivpuri-corona-news-update-uttar-pradesh-migrant-workers-death-in-mp-shivpuri-127307478.html?__twitter_impression=true @nishantchat @RubikaLiyaquat

Courtesy: @DainikBhaskar

अमृत का सिर गोद में लेकर बैठा रहा मोहम्मद याकूब..

View image on Twitter


19 people are talking about this



Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a comment

abc abc