भोपाल में जमातियों पर बड़ी कार्यवाही मस्जिदों में छुपे 18 जमातियों को जेल भेजा, इनमें 8 विदेशी




तबलीगी जमात से लौटने वाले जमातियों पर राजधानी भोपाल में कार्रवाई शुरू हो गई है. जमात से लौटने के बाद इन लोगों ने जानकारी छिपाई थी. उसके बाद पुलिस ने ऐसे लोगों के विरुद्ध मामला दर्ज किया था. जमातियों की तलाश कर उन्हें क्वारंटीन सेंटर में रखा गया था. क्वारंटीन का समय पूरा होने के बाद पुलिस जमातियों को जेल भेज रही है.



क्वारंटीन सेंटरों में समय पूरा कर चुके 18 जमातियों को गुरुवार को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया गया है. कोर्ट ने सभी को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है. गिरफ्तार किए गए जमातियों पर पासपोर्ट अधिनियम, विदेशी अधिनियम और लॉकडाउन तोड़ने के मामले दर्ज हैं. मीडिया से बात करते हुए एएसपी मनु व्यास ने कहा कि तलैया, मंगलवारा थाना पुलिस ने 18 जमातियों को गिरफ्तार किया है, इनमें 8 विदेशी हैं.




जानकारी छिपाकर शहर में रह रहे इन लोगों को भेजा गया जेल
जेल भेजे गए लोगों में कजाकिस्तान, दक्षिण अफ्रीका, तंजानिया, महाराष्ट्र और बिहार के आरोपी हैं. सभी लोगों पर आरोप है कि जानकारी छिपाकर शहर में रह रहे थे, साथ ही धार्मिक आयोजनों में हिस्सा ले रहे थे. पुलिस के अनुसार सभी आरोपी भोपाल आने से पहले दिल्ली के मरकज में शामिल हुए है. इसके साथ ही भोपाल के इस्लामपुरा और मंगलवारा की मोमनानी मस्जिद में धार्मिक आयोजन में शामिल थे.



65 लोग हुए थे ट्रेस, एक भोपाल का
कोरोना संक्रमण के तार मरकज से जुड़ने के बाद पूरे देश की पुलिस चौकन्ना हो गई थी. पुलिस ने जिन 18 आरोपियों को गिरफ्तार किया है, उनमें से एक भोपाल का है. दिल्ली से आए जमातियों को उस पर संरक्षण देने का आरोप है. अप्रैल महीने में भोपाल पुलिस ने 65 जमातियों को शहर के अलग-अलग धार्मिक स्थलों से ऑपरेशन चलाकर ट्रेस किया था. उसके बाद इन्हें क्वारंटीन कर मामला दर्ज किया गया था. पुलिस ने उसी समय स्पष्ट कर दिया था कि आरोपियों पर कार्रवाई होगी.



Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a comment

abc abc