शाहीन बाग धरना स्थल पर अज्ञात व्यक्ति ने फेंका पेट्रोल बम, धरना जारी रखना बताया जा रहा है बजह




दिल्ली के शाहीन बाग धरनास्थल के पास आज रविवार सुबह एक अज्ञात व्यक्ति ने पेट्रोल बम फेंक दिया. संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के विरोध में इस धरनास्थल पर शाहीन बाग की महिलाएं तीन महीने से अधिक समय से धरना दे रही हैं. अब तक किसी के हताहत होने की खबर नहीं है.

दिल्ली पुलिस ने बताया कि घटना सुबह करीब 9.30 बजे हुई. पुलिस को घटनास्थल पर पेट्रोल से भरी करीब पांच-छह बोतलें मिली हैं.

शाहीन बाग में महिला प्रदर्शनकारी आज रविवार को ‘जनता कर्फ्यू’ के दिन भी अपना विरोध प्रदर्शन जारी किए हुए हैं. इससे पहले, दो दिन पूर्व शुक्रवार को प्रदर्शनकारियों ने कहा था कि किसी भी समय 50 से अधिक महिलाएं विरोध प्रदर्शन नहीं कर रही हैं. ‘जनता कर्फ्यू’ के दौरान भी धरना जारी रखना बजह बताया जा रहा है. 

एक प्रदर्शनकारी ने कहा था, रविवार को, हम छोटे टेंटों के नीचे बैठेंगे. केवल दो महिलाएं प्रत्येक टेंट के नीचे बैठेंगी और अपने बीच एक मीटर से अधिक दूरी बनाए रखेंगी. एक अन्य प्रदर्शनकारी रिजवाना ने कहा कि महिलाएं हर सावधानी बरत रही हैं और वे हर समय बुर्के में ढकी रहती हैं. उन्होंने कहा, नियमित रूप से हाथ धोना हमारी जीवनशैली का हिस्सा है. हम दिन में पांच बार नमाज अदा करते हैं और हर बार हाथ धोते हैं.
Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc