कचैड़ा में बनेगा महाशय लक्ष्मीचंद द्वार लगेगी मूर्ति होगा सड़क का नामकरण





कचैड़ा के मोहन सिंह कन्या वैदिक विद्यालय में आज पंचायत का आयोजन किया गया । जिसमें सर्वसम्मति से फैसला लिया गया कि गांव के पूर्व प्रधान महाशय लक्ष्मी चंद आर्य के नाम पर गांव में यादगार स्थल बनाए जाएंगे । जिनमें गांव के मुख्य चौराहे पर महाशय जी की मूर्ति स्थापित होगी । इसी के साथ उनके नाम पर गांव का द्वार का निर्माण किया जाएगा और NH24 से गांव को जोड़ने वाली सड़क का नाम महाशय लक्ष्मीचंद आर्य के नाम पर रखा जाएगा । इसी के साथ ही यह भी फैसला लिया गया कि गांव में बहुप्रतीक्षित डिग्री कॉलेज का जल्द निर्माण किया जाएगा और डिग्री कॉलेज का नाम महाशय लक्ष्मीचंद आर्य के नाम पर होगा । 



आकाश नागर    

याद रहे कि गत 18 दिसंबर को कचैड़ा गांव के पूर्व प्रधान महाशय लक्ष्मी चंद आर्य का निधन हो गया था । 29 दिसंबर को मोहन सिंह कन्या वैदिक विद्यालय में उनकी श्रद्धांजलि सभा आयोजित की गई थी । जिसमें पूर्व केंद्रीय मंत्री और सांसद डॉ महेश शर्मा, भाजपा के सांसद साक्षी महाराज के साथ ही उत्तर प्रदेश के राज्य मंत्री अतुल गर्ग । दादरी के भाजपा विधायक मास्टर तेजपाल नागर, पूर्व मंत्री लखीराम नागर , मोदीनगर के विधायक डॉ मंजू शिवाच ,  विधायक प्रशांत चौधरी सहित बचन सिंह आर्य पूर्व मंत्री हरियाणा , रामकिशोर अग्रवाल पूर्व मंत्री उत्तर प्रदेश , देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के पुत्र एवं नोएडा के विधायक पंकज सिंह, ब्लॉक प्रमुख कृष्ण वीर चौधरी, जिला पंचायत सदस्य अमरपाल गुर्जर, जिला पंचायत सदस्य नीतू सांगवान , विनय आर्य  महामंत्री दिल्ली आर्य प्रतिनिधि सभा, माया प्रकाश त्यागी कोषाध्यक्ष सार्रवदैशिक सभा, अनिल आर्य अध्यक्ष आर्य युवक परिषद , आदि दिग्गज नेता और समाजसेवी कचैड़ा गांव में पधारे थे। इसी के साथ ही पूर्व सांसद और मीरापुर के विधायक अवतार सिंह भड़ाना एवं खेकड़ा के पूर्व विधायक रूप चौधरी आदि नेताओं का आगमन भी  हुआ था । 






महाशय जी की श्रद्धांजलि सभा में आकर्षण का केंद्र एमडीएच मसाले के डायरेक्टर महाशय धर्मपाल जी मौजूद रहे । 97 वर्षीय महाशय धर्मपाल जी की मौजूदगी ने श्रद्धांजलि में उपस्थित लोगों को इस बात का एहसास कराया की महाशय लक्ष्मी चंद आर्य गांव कचैडा ही नहीं बल्कि देश और विदेश तक ख्याति प्राप्त थे । इस बात का एहसास स्थानीय सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ महेश शर्मा को भी हुआ । उन्होंने खुद देखा की श्रद्धांजलि सभा में कचैडा ही नहीं बल्कि क्षेत्र के हजारों मौजूद लोग मौजूद थे । जबकि देश के कोने कोने से आर्य समाज के अनुनाई भी पहुंचे थे । यहां यह भी बताना जरूरी है कि महाशय लक्ष्मी चंद आर्य समाज के अंतरराष्ट्रीय स्तर के समाज सुधारक थे । इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि वह देश की सबसे बड़ी आर्य समाज की संस्था सार्वदैशिक आर्य  प्रतिनिधि सभा के महामंत्री थे । ऐसे में गांव कचैड़ा के लोग इस बात पर एकजुट है कि उनके यादगार पलों को सजोए रखने के लिए गांव में ना केवल उनकी मूर्ति लगे बल्कि NH- 24 से गांव के सड़क मार्ग का नाम उनके नाम पर हो । साथ ही गांव का प्रवेश द्वार भी महाशय जी के नाम पर बनाया जाए। इसी के साथ गांव के डिग्री कालेज का नामकरण भी महाशय लक्ष्मीचंद आर्य के नाम पर होगा ।आज की पंचायत की अध्यक्षता बाबा भूले राम ने की तथा संचालन कप्तान राज सिंह ने किया । 

इस अवसर पर दिवंगत महाशय लक्ष्मीचंद आर्य के पुत्र देवेश चौधरी, भांजे पुष्पेंद्र प्रधान, भाई भीम चंद प्रधान, भतीजे राजेंद्र सिंह नागर के अलावा गांव के वर्तमान प्रधान तेज सिंह नागर पूर्व प्रधान भूमेश नागर, सुशील नागर कांग्रेस नेता डॉक्टर ज्ञानेंद्र नागर , सतीश बीडीसी,जोगिदर बीडीसी, सुनील केबल, केसराम , मास्टर मनोज नागर, रामें प्रधान , अंतराम दरोगा , मास्टर मामचंद सहित काफी संख्या में गांव के लोग उपस्थित थे।



Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a comment

abc abc