सरकार की योजनाओं का पलीता लगाते पटवारी, प्रधानमंत्री आवास में झोपड़ी-कच्चे मकान वालों को किया अपात्र





आवासों की सूची में अनियमितता, कलेक्टर ने दिए जांच के आदेश
मेहगांब से महेश मिश्रा 
भारत सरकार गरीबों के उत्थान हेतु काफी योजनाएं चला रही है लेकिन एक के बाद एक उन योजनाओं का लाभ राजनैतिक रसूखदार एवं पैसे वाले लोग उठाते हैं गरीब इस लाइन में पीछे छूट जाता है क्योंकि ना तो उसके पास रिश्वत है और ना ही राजनैतिक ताकत अभी हाल ही में ऐसा ऐसा मामला मेहगांव नगर पंचायत में प्रधानमंत्री आवास योजना में हुई धांधली से आया है आवास सूची में अपात्र दिखाए गए गरीब हितग्राही नगर पंचायत अध्यक्ष के यहां न्याय की गुहार लगाने पहुंचे इस पर अध्यक्ष ममता भदौरिया द्वारा प्रधानमंत्री आवास सूची तथ्य के साथ जिसमें दिखाया गया है कि वास्तविक गरीब हितग्राही कच्चे घरों में निवासरत हैं हितग्राहियों को सूची में अपात्र एवं रसूखदार नगर पंचायत से संबंध रखने वाले पक्के निवास बालों को सूची में पात्र किया गया है.



मामले की गंभीरता देखते हुए भिंड कलेक्टर छोटे सिंह ने जांच के आदेश देकर जांच अधिकारी के रूप में डीके शर्मा अपर कलेक्टर को नियुक्त किया है नगर पंचायत अध्यक्ष की शिकायत पर नियुक्त जांच अधिकारी डीके शर्मा ने मेहगांव वार्ड क्रमांक 3, 5, 7, 13, 14 आदि वार्डों में आवेदकों के यहां पहुंचकर जांच की और नगर वासियों को विश्वास दिलाया कि दोषियों पर कार्यवाही एवं वास्तविक गरीबी हितग्राहियों के नाम शीघ्र अतिशीघ्र प्रधानमंत्री आवास योजना से जोड़ दिए जाएंगे दुख की बात यह है कि जनता का इस प्रकार की जांचों में विश्वास उठ गया है. 


लोगों का मत है कि होने वाली जांच की राजनैतिक एवं लालचशाही  के चलते वली न चढ़ जाए इस पर ममता भदौरिया ने कलेक्टर महोदय छोटे सिंह पर विश्वास जताते हुए जनता को आश्वस्त रहने को कहा है विषय इस प्रकार है कि नगर मेहगांव में प्रधानमंत्री आवास योजना हेतु 2019 में जो आवेदन प्राप्त हुए हैं उनकी सूची 361 की SDM को प्रेषित की गई। सूची में विलंब पर अध्यक्ष द्वारा कलेक्टर को शिकायत पर कलेक्टर के आदेश से एसडीएम महोदय ने आनन-फानन में पटवारियों को जांच के लिए नियुक्त कर सूची तैयार की जिसमें 127 हितग्राहियों की सूची तैयार हुई जिसका परिषद से प्रस्तावित सूची में से लगभग 100 गरीब हितग्राही जो वास्तविक रूप से इस योजना के पात्र थे सूची में अपात्र एवं नगर परिषद जनप्रतिनिधियों से संबंध रखने वाले एवं रसूखदार ओं के नाम सूची में पात्र किया गया है. 



अध्यक्ष ममता भदौरिया द्वारा कलेक्टर महोदय को दिए आवेदन में गरीब हितग्राही जिनको अपात्र किया वह निम्न प्रकार हैं -
  1. मीना/ बलराम खटीक वार्ड क्रमांक 13,
  2.  बाबू खान वार्ड 13,
  3. जीतू /राम शंकर वार्ड 11,
  4. रामगोपाल / छोटेलाल वार्ड 15
  
जो पक्के मकान हैं और सूची में पात्र किया है -
  1. माला/ राकेश गुर्जर वार्ड 7
  2. विवेक कुमार / मलखान वार्ड 3
  3. अरुण/ निहाल वार्ड 3 पक्का मकान
  4. होमसिंह पक्का मकान वार्ड 3
  5. अनुरुद्ध /प्यारेलाल वार्ड 3

* शिकायती आवेदन के आधार पर भिंड से जांच दल के साथ में गया था जांच अधिकारी महोदय ने वार्ड 3, 5, 7, 13, 14 का निरीक्षण किया आगे जो आदेश होगा कार्यवाही करूँगा
राघबेन्द्र शर्मा, सीएमओ नपं मेहगांव

* नगर के ऐसे गरीब हितग्राही का जिनका नाम आवास सूची से अकारण हटा दिया इस पर कलेक्टर साहब के सम्मुख विषय की गंभीरता एवं आवास सूची में हुई हेरा फेरी को तथ्य पूर्ण रखा है महोदय ने मामले की गंभीरता के चलते जांच के आदेश दिए हैं एवं आश्वासन दिया है कि किसी भी गरीब पात्र का नाम आवास सूची में जुड़ने से नहीं रहेगा।
ममता भदौरिया, अध्यक्ष नपं मेहगांव

* मुझे आवास के विषय में कोई शिकायत प्राप्त नहीं हुई है यदि शिकायत आती है तो शीघ्र अति शीघ्र जांच कर ऐसे वंचित हितग्राही को प्रधानमंत्री आवास सूची में जोड़ेंगे एवं दोषी कर्मचारी पर कार्यवाही करूंगा।
गणेश जायसवाल, एसडीएम मेहगांव


* मेरे वार्ड में अधिकतम गरीब एवं पिछड़ों का निवास है वार्ड वासियों का मुझसे कहना है कि हमसे आवास हेतु 5000 रिश्वत की मांग की गई है जिसकी असमर्थता में (न दे पाने पर) हमारा नाम आवास सूची से बाहर कर दिया गया है
अमृत लाल खटीक, पार्षद वार्ड 13 मेहगांव

* मेरी ड्यूटी एसडीएम महोदय ने लगाई थी आवासों की पात्रता जांच के दौरान नगर पंचायत के दल के साथ में था जांच के लिए मैं जिम्मेदार नहीं बाढ़ के लोगों का मुझ पर पैसे का आरोप गलत है
पूरन नरवरिया, पटवारी वार्ड 11 से 15

* वार्ड वासियों का आरोप गलत है हमारे द्वारा निष्पक्ष जांच की गई है किसी से किसी भी प्रकार का कोई पैसा नहीं मांगा गया है
राजेश श्रीवास्तव, पटवारी वार्ड 11 से 15


* नगर पंचायत से प्राप्त प्रधानमंत्री सूची में पात्र एवं अपात्रों की प्रमाणिकता की जांच कर सूची तैयार की गई है
शिवकुमार कुशवाह, पटवारी वार्ड 6 से 10

* एसडीएम महोदय द्वारा नियुक्त दल ने आवेदनों में दी जानकारी की प्रमाणिकता की जांच कर पात्र एवं अपात्र सूची तैयार की गई है
देवेश शर्मा, पटवारी वार्ड 6 से 10




Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc