परसाईं के व्यंग्य 'सदाचार का ताबीज़' एवं 'टॉर्च बेचनेवाला' के नाट्य रूपांतरण का मंचन


मध्यप्रदेश हिन्दी साहित्य सम्मेलन का मूर्धन्य व्यंग्यकार हरिशंकर परसाईं पर केन्द्रित महत्वपूर्ण आयोजन आज गंजबासौदा में मध्यप्रदेश हिन्दी साहित्य सम्मेलन, डॉल्फिन एवं नवांकुर इंटर कॉलेज गंजबासौदा के सौजन्य से आयोजित किया गया.  



सुरेन्द्र सिंह रघुवंशी

आयोजन में परसाईं के व्यंग्य 'सदाचार का ताबीज़' एवं 'टॉर्च बेचनेवाला' के नाट्य रूपांतरण का मंचन किया गया एवं विभिन्न सांगीतिक प्रस्तुतियां दी गईं. परसाईं पर मुख्य वक्तव्य तरुण गुहा नियोगी ने दिया. बड़ी तादात में श्रोताओं /दर्शकों की उपस्थिति ने इस अंधेरे समय में जन चेतना की सृजनात्मकता की हौसलाफजाई की.

इस आयोजन में सृजन पक्ष से सुरेन्द्र सिंह रघुवंशी, मणि मोहन, दौलतराम प्रजापति, शोभाराम विश्वकर्मा, वरिष्ठ कवि जयनारायण मेहता, पी आर मलैया, टीकाराम त्रिपाठी, तारण जी, मणि मोहन, दौलतराम प्रजापति, शोभाराम विश्वकर्मा ने कविता पाठ किया.

आयोजन की अध्यक्षता मध्यप्रदेश हिन्दी साहित्य सम्मेलन के अध्यक्ष पलाश सुरजन ने की. संचालन मध्यप्रदेश हिन्दी साहित्य सम्मेलन के महासचिव मणि मोहन ने किया. 


Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc