बड़ा तालाब कैचमैंट एरिया के माप के बारे में आवश्यक कार्यवाही जरूरी - मंत्री आरिफ अकील




अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री आरिफ अकील ने भोपाल के बड़े तालाब को भोपाल की पुरातन सम्पत्ति बताते हुए कैचमेंट एरिया में अतिक्रमण की शिकायतों पर गहन चिंता व्यक्त की है। उन्होंने कैचमैंट एरिया के माप के बारे में आवश्यक कार्यवाही की जरूरत बताई है।
- दुर्गेश रायकवार

भोपाल / अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री आरिफ अकील ने स्थानीय प्रशासन से भोपाल के बड़े तालाब के कैचमैंट एरिया के माप के संबंध में तुरंत आवश्यक कार्यवाही करने को कहा है। उन्होंने कहा है कि भोपाल तालाब के मुख्य स्त्रोत उलझावन नदी एवं कोलांस नदी के किनारों पर व्यापक रूप से पौध-रोपण किया जाये, जिससे मिट्टी बहकर बड़े तालाब में नहीं आये।

भोपाल / अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री आरिफ अकील ने कहा है कि भोपाल का बड़ा तालाब भोपाल की पुरातन सम्पत्ति है। इसके चारों ओर प्रशासन द्वारा वर्ष 2008 एवं 2016 में सीमांकन के बाद मुनारें (सीमा चिन्ह) लगाई गई थी। उन्होंने कहा कि तालाब की अधिकतम क्षमता 1666.80 फीट है। वर्षा काल में जब तालाब अपने अधिकतम स्तर तक भर जाता है, तब भदभदा के गेट खोले जाते हैं। 

उन्होंने कहा भदभदा के गेट खोलते समय कभी-कभी पानी तालाब के अधिकतम स्तर से अधिक तक पहुँच जाता है। तब पानी मुनारों से आगे आस-पास स्थित निजी भूमि तक पहुँच जाता है और तालाब की लहरों से भी तालाब का बैक वाटर मुनारों की सीमा से आगे निकल जाता है। बैक वाटर से बाहरी इलाकों में भराव होता है। मंत्री आरिफ अकील ने कैचमेंट एरिया में अतिक्रमण की शिकायतों पर गहन चिंता व्यक्त की है।

Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc