हरियाणा के लोग कश्मीर से दुल्हन ला सकेंगे, बयान के बाद घिरे खट्टर तो बोले 'देश की बेटियां हमारी बेटियां'



Image result for हरियाणा के लोग कश्मीर से दुल्हन ला सकेंगे, बयान के बाद घिरे खट्टर तो बोले 'देश की बेटियां हमारी बेटियां'

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर कश्मीरी लड़कियों के संबंध में दिए अपने बयान पर घिर गए तो उन्होंने बाद में बयां पर सफाई देते हुए शनिवार को कहा कि उनके इस बयान का गलत मतलब निकाला गया। खट्टर ने सोनीपत में एक कार्यक्रम के दौरान अपने बयान पर सफाई देते हुए कहा, ‘बेटियां सभी की एक समान होती हैं। मेरे बयान का गलत मतलब निकाला गया है।’ 



उन्होंने ट्विटर पर कार्यक्रम का पूरा वीडियो साझा करते हुए मीडिया पर अपने खिलाफ गुमराह करने वाले और तथ्यहीन अभियान चलाने का आरोप लगाया। खट्टर ने ट्वीट किया, बेटियां हमारा गौरव हैं। पूरे देश की बेटियां हमारी भी बेटियां हैं। 

दरअसल,खट्टर ने शुक्रवार को फतेहाबाद में एक कार्यक्रम में कहा, "अगर लड़कियों की तादाद लड़कों से कम हो तो दिक्कतें हो सकती हैं। हमारे (ओ पी) धनखड़जी ने कहा था कि उन्हें (दुल्हनों को) बिहार से लाना होगा। लेकिन कुछ लोगों ने कहा, कश्मीर खुला है, लिहाजा उन्हें (दुल्हनों को) वहां से लाया जाएगा। लेकिन मजाक से हटकर, सवाल यह है कि अगर अनुपात (लिंग अनुपात) सही रहे तो समाज में संतुलन ठीक रहेगा।" 

दरअसल, खट्टर ने यह कहकर विवाद खड़ा कर दिया था कि अब हरियाणा के लोग कश्मीर से दुल्हन ला सकेंगे। उनका इशारा संविधान के अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को खत्म कर जम्मू-कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा वापस लिए जाने की ओर था।



खट्टर का बयान आरएसएस के प्रशिक्षण का प्रमाण : राहुल
पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने खट्टर के बयान को लेकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) पर निशाना साधा है। गांधी ने शनिवार को कहा कि यह (खट्टर का बयान) इस बात का प्रमाण है कि आरएसएस का प्रशिक्षण एक व्यक्ति की सोच को कैसा बना देता है। 

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘कश्मीरी महिलाओं के बारे में हरियाणा के मुख्यमंत्री खट्टर की टिप्पणी निंदनीय है। यह दिखाता है कि आरएसएस का वर्षों का प्रशिक्षण एक कमजोर, असुरक्षित और दयनीय व्यक्ति की सोच को कैसा बना देता है।’ उन्होंने कहा, ‘महिला कोई संपत्ति नहीं है कि पुरुषों का उन पर स्वामित्व होगा।’

ममता बनर्जी ने नाम लिए बिना की खट्टर की आलोचना
दूसरी ओर, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी मनोहर लाल खट्टर के बयान की आलोचना की। उन्होंने कहा कि शीर्ष पदों पर बैठे लोगों को जम्मू-कश्मीर के लोगों के बारे में असंवेदनशील टिप्पणी करने से बचना चाहिए। 

खट्टर का नाम लिए बिना बनर्जी ने एक ट्वीट में कहा, ‘उच्च पदों पर बैठे हम और कई अन्य लोगों को जम्मू-कश्मीर के प्यारे लोगों के खिलाफ असंवेदनशील टिप्पणी करने से बचना चाहिए। ऐसी टिप्पणियां केवल जम्मू कश्मीर को ही नहीं बल्कि समूचे देश को चोट पहुंचाती है।’

चुनाव जीतने के लिए कुछ भी कर सकती है भाजपा : जयहिंद
खट्टर के विवादित बयान पर आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नवीन जयहिंद ने उनसे माफी मांगने की मांग की। जयहिंद ने कहा, ‘चुनाव जीतने के लिए भाजपा कोठे भी खुलवा सकती है...।’ उन्होंने कहा कि बहन-बेटी सबकी बराबर होती है। उन्होंने पांच साल में कितनी शादियां करवाई हैं? यह बताएं।

महिला आयोग भी सख्त
वहीं, राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने शनिवार को कहा कि वह उत्तर प्रदेश भाजपा के विधायक विक्रम सिंह सैनी से उनकी टिप्पणियों के लिए जवाब मांगेंगी। सैनी ने कथित तौर पर कहा था कि पार्टी कार्यकर्ता अब जम्मू-कश्मीर जा सकेंगे और वहां ‘‘गोरी’’ महिलाओं से विवाह करेंगे।

शर्मा ने किसी का नाम लिए बगैर एक ट्वीट में कहा, ‘‘उनकी कल्पना महिलाओं, उनके रंग तक ही सीमित क्यों है? कैसे वह अपना बड़ा मुंह खोलते हैं और महिलाओं के लिए इस तरह की मूर्खतापूर्ण टिप्पणी करते हैं? लोग उन्हें सत्ता में क्यों चुनते हैं? मैं निश्चित तौर पर उनसे जवाब मांगूंगी?’’ 

और अंत में 
मुख्यमंत्री खट्टर के विवादित बयान पर कवि श्री पंकज त्रिवेदी जी की कलम कुछ यूँ चली, देखिये - 

ग़र हाथ भी लगाओगे जल जाओगे 

ग़र हाथ भी लगाओगे जल जाओगे 
वो कश्मीर की बेटी है जल जाओगे 

ज़न्नत के ख्व़ाब देखने वाले सुन लो 
हिंदुस्तान की बेटी है जल जाओगे 

वो बर्फ़ और प्रकृति में पैदा हुई है 
प्रकृति में विकृति लाएं जल जाओगे 

अपनी जुबां को लगाम देना सीख लो 
चूड़ियों की ताक़त देखोगे जल जाओगे

अपनी माँ-बहन को देख भी लो ज़रा
वो भी शक्ति का रूप है जल जाओगे   






Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc