मध्यप्रदेश के 'मामा शिवराज' ने 'बच्चों के चाचा' को बताया 'क्रिमिनल'

Image result for shiv raj

''राजनीति जो न कराये सो कम है। जिनके जन्मदिवस को हम बाल दिवस के रूप में मनाते हैं, जिन्हें बच्चे चाचा-चाचा कह कर बुलाया करते थे, ऐसे पंडित जवाहरलाल नेहरू। आजादी सभी को मिलनी चाहिए जैसी सोच रखने वाले पंडित जवाहरलाल नेहरू को मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 'क्रिमिनल' बता दिया है।'' 



बलभद्र मिश्रा  

जादी को लेकर चाचा पंडित जवाहरलाल नेहरू की सोच दर्शाने वाली उनके बाल्यकाल की एक घटना का उल्लेख हम पहले करना चाहेंगे, जिसमें उनके घर पिंजरे में एक तोता पलता था। पिता मोतीलाल जी ने तोते की देखभाल का जिम्मा अपने माली को सौंप रखा था। एक बार नेहरूजी स्कूल से वापस आए तो तोता उन्हें देखकर जोर-जोर से बोलने लगा। नेहरूजी को लगा कि तोता पिंजरे से आजाद होना चाहता है। उन्होंने पिंजरे का दरवाजा खोल दिया। तोता आजाद होकर एक पेड़ पर जा बैठा और नेहरूजी की ओर देख-देखकर कृतज्ञ भाव से कुछ कहने लगा। उसी समय माली आ गया। उसने डाँटा- "यह तुमने क्या किया! मालिक नाराज होंगे। बालक नेहरू ने कहा- "सारा देश आजाद होना चाहता है। तोता भी चाहता है। आजादी सभी को मिलनी चाहिए। इस प्रकार की सोच वाले चाचा नेहरू को मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 'क्रिमिनल' बता दिया है। 

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के केंद्र सरकार के फैसले पर राजनीतिक तकरार खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। कांग्रेस लगातार मोदी सरकार की मंशा पर सवाल उठा रही है तो भाजपा भी पलटवार करने से बिल्कुल नहीं चूक रही है। अब मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस पर विवादित बयान दिया है। उन्होंने अनुच्छेद 370 पर कांग्रेस को घेरते हुए कहा है कि पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू 'क्रिमिनल' थे।

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, शिवराज सिंह चौहान ने पत्रकारों के साथ बातचीत में कहा, 'जब भारतीय सेना कश्मीर से पाकिस्तानी कबाइलियों का पीछा कर रही थी, तो उन्होंने (जवाहरलाल नेहरू) युद्ध विराम की घोषणा कर दी। कश्मीर के एक-तिहाई हिस्से पर पाक का कब्जा है। अगर कुछ और दिनों के लिए युद्धविराम नहीं होता, तो पूरा कश्मीर हमारा होता।'

शिवराज सिंह चौहान ने कहा, 'जवाहरलाल नेहरू का दूसरा अपराध 370 है।' उन्होंने कहा कि, 'एक देश में दो निशान, दो विधान, दो प्रधान, यह एक देश के साथ अन्याय नहीं बल्कि उसके खिलाफ अपराध है।'

मानक अग्रवाल ने शिवराज को 'मूर्ख' बताया 
शिवराज सिंह चौहान द्वारा जवाहरलाल नेहरू को 'क्रिमिलन' बताने के बयान पर कांग्रेस नेता मानक अग्रवाल ने उन्हें 'मूर्ख' बताया है. उन्होंने कहा कि शिवराज से बड़ा मूर्ख कोई नहीं होगा जो ऐसे व्यक्ति के लिए ऐसी बात बोलता हो.

जारी है विवादित बयानबाजी का दौर
बता दें कि इनसे पहले अपने बयान को लेकर निशाने पर आए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को सफाई देनी पड़ी। शुक्रवार को सीएम खट्टर ने विवादित बयान देते हुए कहा था कि अनुच्छेद 370 के हटने के बाद अब लड़कियों को शादी के लिए कश्मीर से लाया जा सकता है। अब हम भी शादी के लिए कश्मीरी लड़की ला सकते हैं।

हालांकि विवाद बढ़ने पर उन्होंने कहा, 'मैं कश्मीर की लड़कियों को अपनी बेटियां मानता हूं। मेरा आशय कोई गलत टिप्पणी करने का नहीं था। देश की हर बेटी हमारी बेटी है।'
Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc