सामाजिक बदलाव के प्रेरक बनें अधिकारी - राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल



राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने कहा है कि प्रशासनिक अधिकारी विकास और बदलाव के प्रेरक बनें। समाज के कमजोर, गरीब और अशिक्षित वर्ग के उत्थान, महिलाओं के सशक्तिकरण, शिक्षा, स्वास्थ्य और आर्थिक विकास के कार्यों को प्राथमिकता दें। क्षेत्र की जरूरतों और समाधान की सम्भावनाओं को समझ कर नये प्रयोग और नवाचार करें। 



श्रीमती पटेल सोमवार को राजभवन में प्रशिक्षु डिप्टी कलेक्टर्स और उप पुलिस अधीक्षकों को संबोधित कर रही थीं। ये प्रशिक्षु अधिकारी प्रशासन अकादमी में 103वें फाउण्डेशन कोर्स का 42 दिवसीय प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं। इस अवसर पर आरसीव्हीपी नरोन्हा प्रशासन एवं प्रबंधकीय अकादमी के डायरेक्टर जनरल श्री ए.पी. श्रीवास्तव भी उपस्थित थे।

राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि अधिकारी का कार्य और व्यवहार ही आम आदमी के लिये प्रेरणा का स्रोत होता है। उन्होंने कहा कि महिला सशक्तिकरण के लिए स्व-सहायता समूहों को सशक्त बनाने, क्षेत्र के कृषि उत्पादों को पहचान दिलाने, कृषि के साथ पशुपालन आदि कार्यों को प्रोत्साहन दिया जाना चाहिए। उन्होंने प्रदेश के विभिन्न अंचल में हो रहे उत्कृष्ट कार्यों का उल्लेख किया।

अकादमी के उप संचालक डॉ. अभय बेडकर ने बताया कि 25 डिप्टी कलेक्टर और 28 डीएसपी प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं। इन्हें राज्य की विशिष्टताओं, नियमों, नवीन तकनीक आदि की जानकारी दी जा रही है। साथ ही फील्ड विजिट, सांस्कृतिक, शारीरिक गतिविधियों के कार्यक्रम भी संचालित किये जा रहे हैं।




Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc