बंगाल से भागकर शाह ने बचाई जान, बोले 'CRPF न होती तो ज़िंदा बचना मुश्किल था'



बंगाल में रोड शो करना अमित शाह को महंगा पड़ गया है. शाह की मानें तो उन्होंने बंगाल से भाग कर अपनी जान बचाई. शाह ने कहा है कि वो भाग्यशाली हैं कि जिंदा निकल आए. अगर CRPF नहीं होती तो उनका बचना मुश्किल हो सकता था. उन्होंने निष्पक्ष एजेंसी से इसकी जांच कराने की मांग की है.

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने आज बुधवार सुबह प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ममता बनर्जी को हिंसा के लिए जिम्मेदार ठहराया है. शाह ने मीडिया के सामने फोटो पेश करते हुए कहा कि तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने विद्यासागर की मूर्ति तोड़ी है. भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता कॉलेज में नहीं घुसे थे.

शाह ने कहा कि रोड शो से पहले TMC की बैचेनी साफ दिख रही थी. उन्होंने कहा "सुबह मेरे और मोदी जी के पोस्टर फाड़े गए, तब भी भाजपा कार्यकर्ता चुप थे. भीड़ के बावजूद रैली शांतिपूर्ण चल रही थी."

हिंसा के बात करते हुए शाह ने कहा कि वो भाग्यशाली हैं कि जिंदा निकल आए. अगर CRPF नहीं होती तो उनका बचना मुश्किल हो सकता था. उन्होंने निष्पक्ष एजेंसी से इसकी जांच कराने की मांग की है.

Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc