नोटबंदी में तीन से पांच लाख करोड़ का घोटाला हुआ -रामदेव


योगगुरू बाबा रामदेव ने एक बड़ा आरोप लगाया है. उन्होंने कहा है कि आरबीआई और दूसरे बैंकों के कुछ अधिकारियों ने नोटबंदी के दौरान बड़ा घोटाला किया है. रामदेव के मुताबिक यह घोटाला तीन से पांच लाख करोड़ रुपये तक हो सकता है. उन्होंने इसे काफी दुर्भाग्यपूर्ण बताया और कहा कि यह देश के सिस्टम पर गम्भीर सवाल खड़े करता है.

बाबा रामदेव द क्विंट से बातचीत कर रहे थे. बातचीत में उन्होंने एक सीरियल नंबर के दो नोट होने की बात कही. उन्होंने कहा कि इसमें आरबीआई की भूमिका थी या पूर्व की कांग्रेस सरकार की, यह बहस का मुद्दा है. रामदेव का यह भी कहना था कि यह देश की अर्थव्यवस्था के लिए बहुत बड़ा धब्बा साबित होने वाला है. इसके अलावा उन्होंने नोटबंदी पर अपनी निराशा जाहिर की. उनका कहना था, ‘मैंने सरकार को तीन सुझाव भेजे थे- बड़े नोटों को बंद करना, सिस्टम को कैशलेस बनाना और बैंकिंग सिस्टम में पारदर्शिता लाना.’ रामदेव ने कहा कि सरकार ने एक सुझाव तो मान लिया, लेकिन तीनों सुझाव लागू होने के बाद ही सिस्टम बेहतर काम करेगा. रामदेव ने माना है कि सरकार ने नोटबंदी की पूरी तैयारी नहीं की थी. उन्होंने कहा कि इसे बेहतर तरीके से लागू किया जा सकता था.

मोदी सरकार के समर्थक माने जाने वाले बाबा रामदेव अब इससे किनारा करते हुए नजर आ रहे हैं. वेबसाइट से बातचीत में उन्होंने भाजपा के साथ अपने संबंधों के बारे में कहा, ‘वह अतीत की बात है और सबके सामने है. संत को हर किसी को एक नजर से देखना चाहिए.’ उन्होंने भाजपा के साथ संबंधों में किसी एजेंडे के छिपे होने से भी इनकार किया है.
Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc