अवैध रेत खनन, कत्था माफिया पर सिंगोली तहसीलदार सुधाकर तिवारी की बड़ी कार्यवाही, माफिया में फ़ैली दहशत




'प्रकृति ने सिर्फ दो ही रास्ते दिए हैं या तो देकर जायें या फिर छोड़कर जाएँ, साथ ले जाने की कोई व्यवस्था नहीं है.' 'ईमानदारी से काम करने वालों के शौक भले ही पूरे न हों, पर नींद जरूर पूरी होती है.' इस तरह का सोच रखकर काम करने वाले हाल में सिंगोली में पदस्थ दबंग व ईमानदार नए तहसीलदार सुधाकर प्रसाद तिवारी एक के बाद एक लगातार कार्यवाही कर क्षेत्र के खनन माफियाओं में दहशत का पर्याय बन चुके हैं.
राकेश तिवारी/ अतुल मेहर की रिपोर्ट 



सिंगोली क्षेत्र में रेत के अवैध डम्परों एवं खनन माफियाओं के साथ कत्था माफिया भी लम्बे समय से सक्रिय रहा है. लेकिन हाल में सिंगोली में पदस्थ दबंग व ईमानदार नए तहसीलदार सुधाकर प्रसाद तिवारी एक के बाद एक लगातार कार्यवाही कर क्षेत्र के खनन माफियाओं में दहशत का पर्याय बन चुके हैं. अपनी पोस्टिंग के कुछ समय तक क्षेत्र के हालात समझने के बाद जब उन्होंने अपनी कार्यशैली में काम करना शुरू किया तो अब क्षेत्र में उनकी दबंगता चर्चाओं में है. 



कल रविवार की देर रात्रि को एक बार फिर सिंगोली तहसीलदार सुधाकर प्रसाद तिवारी ने 3 अवैध लकड़ी माफियाओं को धर दबोचा है. उन्होंने बताया मुखबिर से प्राप्त सूचना के आधार पर धड़पकड़ की गई तो शासकीय भूमि से दबंगों द्वारा काटी गई अवैध 14 क्विंटल 40 किलो खैर की लकड़ी पकड़ी गई है. जिसे ग्रामीणों की उपस्थिति में मौका स्थल पर ही पंचनामा बनाया जाकर प्रकरण थाने में पंजीवद्ध कराया गया है. 

प्योर माल अलग कर ले जाया जाता है 
सिंगोली क्षेत्र में पिछले कई वर्षों से अवैध रेत के डंपरों के आवागमन, अवैध खनन माफियाओं एवं अवैध वन माफियाओं द्वारा धड़ल्ले से शासन को राजस्व का भारी नुकसान किया जा रहा था. ग्रामीणों द्वारा कई बार शिकायतों के बाद भी राजस्व विभाग, वन विभाग एवं पुलिस प्रशासन के द्वारा किसी प्रकार की कार्यवाही नहीं होने से माफियाओं के साथ इनकी मिलीभगत के भी कई बार आरोप लग चुके थे, लेकिन पिछले कुछ समय से सिंगोली क्षेत्र में रेत के अवैध डम्परों एवं खनन माफियाओं के ऊपर एक के बाद एक लगातार कार्यवाही कर क्षेत्र के खनन माफियाओं में दहशत का पर्याय बन चुके हैं सिंगोली के दबंग व ईमानदार तहसीलदार सुधाकर प्रसाद तिवारी.


खैर के पेड़ ख़ास निशाना 
असल में जब से नीमच जिले के जंगल में बड़ी मात्रा में खड़े खैर के पेड़ कत्था माफिया की नजर में आए हैं, वह लगातार साफ़ किये जा रहे हैं. जिले में लकड़ी माफिया के लिए ख़ास कर खैर की लकड़ी निशाना बनी हुई है. सूत्रों के अनुसार यहाँ से मिलीभगत कर खैर के पेड़ साफ़ किये जा रहे हैं. 
स्थानीय गरीब मजबूर लोगों को काम में लगा दिया गया है. रात के अँधेरे में पेड़ काटे जाते हैं और रात के अँधेरे में ही उनके ऊपर का बेकार हिस्सा छील कर बीच का कट्ठे वाला हिस्सा अलग किया जाता है.
जानकारी के अनुसार स्थानीय गरीब मजबूर लोगों को काम में लगा दिया गया है. रात के अँधेरे में पेड़ काटे जाते हैं और रात के अँधेरे में ही उनके ऊपर का बेकार हिस्सा छील कर बीच का कट्ठे वाला हिस्सा अलग किया जाता है. फिर इसे गाड़ियों में भरा जाकर अवैध रूप से निकाल दिया जाता है, लेकिन अब सिंगोली तहसीलदार सुधाकर प्रसाद तिवारी ने जानकारी के बाद इस पर नकेल कसना शुरू कर दिया है. 



पिछले रविवार को भी देर रात साढ़े 10 बजे तहसीलदार श्री तिवारी ने अपने दल के साथ खनन माफिया पर बड़ी कार्यवाही की थी. तब उन्होंने रोजडी नदी किनारे अवैध खनन की सूचना पर तत्परता दिखाते हुए रात में ही मौके पर जाकर एक JCB चेसिस क्रमांक 5602200 व एक ट्रेक्टर क्रमांक RJ (अस्पष्ट) 1557 दुसरा एक बिना नंबर का ट्रेक्टर ट्राली भी जप्त किया था. 

इसके एक दिन पहले शनिवार को भी तहसीलदार श्री तिवारी द्वारा 4 डम्पर जप्त किये जाकर प्रकरण पंजीवद्ध कराया गया. और थाने में सौंप दिए गए. 


कल रविवार एक बार फिर देर रात छापामार कार्यवाही करते हुए उन्होंने अवैध वन माफियाओं पर बड़ी कार्यवाही की है. उन्होंने सरकारी जमीन से अवैध रूप से लकड़ियाँ काटते और काटी गई लकड़ियों से भरी 1 पिकअप वाहन सहित 3 आरोपियों को भी मौके से धर दबोचा है. आरोपियों के पास से औजार भी जप्त किये गए हैं. 

विस्तृत जानकारी के अनुसार पटवारी हल्का ताल के अंतर्गत आने वाले ग्राम अनदपुरा में बीती रविवार की देर रात्रि को मुखबिर से प्राप्त सूचना के आधार पर सिंगोली तहसीलदार सुधाकर प्रसाद तिवारी ने शासकीय भूमि से दबंगों द्वारा काटी गई अवैध 14 क्विंटल 40 किलो खैर की लकड़ी पकड़ी एवं  ग्रामीणों की उपस्थिति में मौका स्थल पर ही पंचनामा बनाया. 

कार्यवाही में मौके पर पिकअप वाहन क्रमांक MP 09 GB 7427 के चालक आसिफ खान निवासी बड़ीसादड़ी कीरत पूरा, मन्नुखान बड़ीसादड़ी कीरतपूरा, जाफर इमाम उर्फ चुन्नू सभी आरोपी राजस्थान सहित अन्य से लकड़ियों से भरी एक पिक अप वाहन, 5 कटर मशीन मय ब्लेड के जप्त करके ग्रामीणों की उपस्थिति में पंचनामा बनाया गया

उक्त कार्यवाही सायं 7 बजे से देर रात्रि 11.30 बजे तक चली. उक्त कार्यवाही में मुख्य भूमिका तहसीलदार सुधाकर प्रसाद तिवारी सिंगोली, थाना प्रभारी ओ.पी. मिश्रा सिंगोली, आर.आई. सूरज निरवाल, अभिषेक त्रिपाठी, पटवारी दुर्गा प्रसाद परते सहित 3 अन्य पटवारी व पुलिस प्रशासन भी शामिल रहा. 




Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc