मथुरा से टिकिट नहीं दिया गया तो तोड़ दिया 'सपना' ने कांग्रेस का 'सपना'




''राजनीति में इन्ट्रेस्ट और विधायक, सांसद कौन नहीं बनाना चाहेगा? लेकिन जब कांग्रेस ने सपना को सपना तो सांसद का दिखाया, लेकिन जल्दी ही उसे तोड़ दिया, तो राजनीति में कुछ बड़ी बनने की बात पर किसी पत्रकार मित्र को 'आप के मुंह में घी शक्कर' कहने वाली सपना ने भी एक ही दिन में सारी राजनीति समझ ली और कांग्रेस का उसे लेकर केवल प्रचार में उपयोग के सपने को तोड़ दिया.'' 


हरियाणा की मशहूर डांसर और गायक सपना चौधरी के कल कांग्रेस में शामिल होने के बाद वह जम कर ट्रोल हुईं. लेकिन आज उन्होंने कांग्रेस में शामिल होने की खबर को सिरे से खारिज कर दिया है. आज रविवार को पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने साफ किया कि शनिवार को मीडिया में वायरल हुईं तस्वीरें पुरानी हैं. उन्होंने इसके अलावा यह भी कहा कि उनकी आगे भी कांग्रेस में जाने की कोई इच्छा नहीं है. दरअसल, शनिवार शाम एजेंसियों के हवाले से सपना के कांग्रेसी बनने की खबरें आई थीं, जिससे जुड़े कुछ फोटोज भी वायरल हुए थे. 

खबर थी कि मशहूर हरियाणवी डांसर सपना चौधरी ने कांग्रेस का हाथ थाम लिया है. और अब कांग्रेस द्वारा सपना चौधरी को उत्तर प्रदेश की मथुरा सीट से चुनाव लड़वाया जा सकता है, जिस सीट पर पहले से बीजेपी नेता और अभिनेत्री हेमा मालिनी का कब्जा है. लेकिन जब शनिवार देर रात कांग्रेस ने अपनी आठवीं सूची जारी की, उसमें मथुरा से महेश पाठक को अपना उम्मीदवार बनाया गया. माना जा रहा है कांग्रेस ने मथुरा सीट से महेश पाठक के नाम का ऐलान कर सपना चौधरी का 'सपना' तोड़ दिया तो सपना भी एक ही दिन में सारी राजनीति सीख गई और उसने भी कांग्रेस का 'सपना' तोड़ दिया. 


उत्तर प्रदेश कांग्रेस सचिव नरेंद्र राठी ने फोटो जारी कर बताया कि सपना चौधरी ने कांग्रेस का दामन थाम लिया है. उन्होंने कांग्रेस पार्टी के लेटर हेड का एक फोटो जारी किया है, जिसमें सपना चौधरी के पार्टी की सदस्यता ग्रहण की है. इस लेटर हेड में सपना चौधरी की पूरी जानकारी दी गई है. उन्होंने कहा, शनिवार को सपना चौधरी आईं थीं और उन्होंने पार्टी की सदस्यता का फॉर्म भी भरा, जिस पर उनके हस्ताक्षर भी हैं. सपना चौधरी के साथ उनकी बहन ने भी शनिवार को कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण की है. हमारे पास दोनों की सदस्यता वाले फॉर्म हैं. इसके अलावा यूपी कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर ने भी ट्वीट कर सपना चौधरी का कांग्रेस में स्वागत किया. 

आज रविवार को प्रेस वार्ता कर सपना चौधरी ने कहा, मैंने कोई पार्टी ज्वाइन नहीं की है. प्रियंका गांधी के साथ जो मेरी तस्वीरें हैं, वो पुरानी हैं. सदस्यता फॉर्म गलत भी हो सकता है. साथ ही बीजेपी से हाथ मिलाने के सवाल पर सपना चौधरी ने बताया कि वो किसी पार्टी से नहीं जुड़ने जा रही हैं. मेरे लिए सारी पार्टी एक समान है. मैं कलाकार हूं. चुनाव लड़ने की मेरी कोई मंशा नहीं. प्रियंका गांधी से मिली थी. मैं मनोज तिवारी के संपर्क में हूं. राजबब्बर से मैंने मुलाकात नहीं की. मैंने कांग्रेस से हाथ नहीं मिलाया है. 2019 का चुनाव नहीं लड़ूंगी.

बहरहाल, सपना चौधरी का वो मेंबरशिप फॉर्म सामने आ गया है, जिसमें सपना चौधरी की तस्वीर और हस्ताक्षर हैं. इस फॉर्म में सपना चौधरी के दस्तखत हैं, तारीख 23 मार्च की लिखी है. अब सवाल ये है कि सपना चौधरी की मेंबरशिप का फॉर्म झूठा है या सपना चौधरी. 

राजनीति में इन्ट्रेस्ट और विधायक, सांसद कौन नहीं बनाना चाहेगा? लेकिन जब कांग्रेस ने सपना को सपना तो सांसद का दिखाया, लेकिन जल्दी ही उसे तोड़ दिया. जैसे ही कल देर रात सूची में सपना के नाम की जगह कांग्रेस ने मथुरा सीट से महेश पाठक के नाम का ऐलान किया तो सपना ने भी एक ही दिन में सारी राजनीति समझ ली और कांग्रेस का उसे लेकर केवल प्रचार में उपयोग के सपने को तोड़ दिया. कहा यह भी जा रहा है कि बीजेपी के मनोज तिवारी से उनकी बात हुई है. कुछ बड़ा ऑफर उन्हें मिला है. 

बहरहाल माना जा रहा है सपना ने कुछ ज्यादा जल्दी कर दी, हो सकता है कांग्रेस उन्हें किसी अन्य सीट से मैदान में उतारती. कल कांग्रेस में शामिल होकर आज राजनीति में आने का कोई इरादा नहीं है कहने वाली सपना की राजनीति में रूचि है, यह उनकी इस बात से भी साफ़ हो जाता है, जिसमें वह किसी पत्रकार के सवाल पर कि आप सारे सवालों के जबाब राजनैतिक दे रही हैं, पर सपना ने कहा 'आप के मुंह में घी शक्कर' की मैं राजनीति में कभी कुछ बड़ी बन जाऊं. 
- चित्रांश   




Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a comment

abc abc