भोपाल सीट बीजेपी को 'गिफ्ट', दिग्विजय को मिलेगी मात?


''पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का भोपाल सीट से लोकसभा चुनाव लड़ना लगभग तय हो गया है. उन्होंने भोपाल के लिए अपनी सहमती दे दी है., जो उनके लिए बड़ी भूल साबित होगी. इसी के साथ यह भी लगभग तय हो गया है कि शय और मात के खेल में दिग्गी राजा को मात मिल रही है,. माना जा रहा है निश्चित रूप से कांग्रेस यह सीट खो रही है.'' 



- बलभद्र मिश्रा 

कांग्रेस अभी भी आपस में ही उलझी हुई है. एक दो सीट पर हार जीत से कोई फर्क नहीं पड़ता, बस सामने वाले की बाट लगनी चाहिए. इसी तर्ज पर कई सीट विधानसभा चुनाव में हार चुकने के बाद भी कांग्रेस ने सबक नहीं लिया है. कांग्रेस यह भी नहीं मान पा रही है कि राज्य में मिली जीत उसकी अपनी जीत से कहीं अधिक बीजेपी की हार थी, बीजेपी से नाराज मतदाता कांग्रेस की तरफ मुड़ गया, जो कभी भी एक बार फिर वापिस मुड़ सकता है. 

वैसे राजनैतिक सूत्र यह भी बताते हैं कि कांग्रेस और ख़ास कर मुख्यमंत्री कमलनाथ दिग्विजय सिंह को झेलने के मूड में नहीं हैं. यदि ऐसा भी है तो उससे निपटने का यह तरीका, जब एक एक सीट महत्वपूर्ण होगी, ऐसे में यह मंहगा भी साबित हो सकता है. आप कुछ भी कहें, इसे सरकार की 75 दिन की उपलब्धियों से भी जोड़ कर देखा जाएगा. और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के तो सारे मुगालते दूर हो ही जाना है. जायँगे उनके

सूत्र बताते हैं कि कांग्रेस के अन्य कई नेता और मुख्यमंत्री कमलनाथ भी दिग्विजय सिंह की दखलंदाजी पसंद नहीं कर रहे हैं, लेकिन लोकसभा चुनाव तक झेलने के लिए उन्हें कहा गया है. सो माना जा रहा है दिग्विजय सिंह को हार का मजा चखाने के लिए उन्हें राजगढ़  से निकालने की साजिश की जा रही थी, इसमें दिग्विजय सिंह के विरोधी सफल हो गए. बताया जा रहा है अब दिग्विजय सिंह भोपाल से लोकसभा चुनाव लड़ेंगे, जहाँ से उनकी हार सुनिश्चित वैसे ही देखी जा रही है जैसे विधानसभा चुनाव में उन्होंने सिरोंज सीट से मशर्रत शाहिद को टिकिट दिलाया था, उसी क्षण वहां से कांग्रेस की हार सुनिश्चित हो गई थी. 

दिग्विजय सिंह सिर्फ राजगढ़ लोकसभा सीट के लिए ही उपयुक्त थे. राजगढ़ जिले के मतदाता ही उन पर आज भी उतना ही भरोसा कर रहे हैं, जितना कि पूर्व में करते रहे हैं. कहा जा सकता है यदि ऐसा है तो भोपाल सीट बीजेपी को 'गिफ्ट' कर दी गई है. 

Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a comment

abc abc