वक्त के पास भी हर जख्म की दवा नहीं होती, फायर ब्रांड नेता उमा भारती के साथ घटित हो रहा है ऐसा ही


''कुछ जख्म सदियों बाद भी ताजा रहते हैं, 
वक्त के पास भी हर जख्म की दवा नहीं होती...  
कहते हैं तीर कमान से और बात जुबान से एक बार निकल भर जाए फिर वापिस पीछे नहीं आती. और उसके उस तरह के परिणाम भुगतने होते हैं. बीजेपी की फायर ब्रांड नेता उमा भारती के साथ भी इन दिनों ऐसा ही घटित हो रहा है.'' 


मैं ऐसा मानती हूँ कि मोदी विकास पुरुष नहीं, विनाश पुरुष हैं -उमा भारती 




उत्तर प्रदेश के झांसी से बीजेपी की सांसद और केंद्रीय मंत्री उमा भारती का एक वीडियो सोशल मीडिया पर इस दावे के साथ सर्कुलेट किया जा रहा है कि 'झांसी से लोकसभा का टिकट नहीं मिलने पर उमा भारती ने मोदी सरकार की पोल खोलनी शुरू कर दी है'. क़रीब 2 मिनट के इस वायरल वीडियो में उमा भारती नरेंद्र मोदी की जमकर आलोचना करती हुई दिखाई देती हैं.

वायरल वीडियो में उन्हें कहते हुए सुना जा सकता है कि "हिंदुत्व का एजेंडा और विकास का एजेंडा ये दो बाते हैं जो प्रोजेक्शन पूरे देश में नरेंद्र मोदी ने करने की कोशिश की है. मैं उनको 1973 से जानती हूँ. मुझे उनके बारे में अच्छी तरह से मालूम है. मैं ऐसा मानती हूँ कि वो विकास पुरुष नहीं, विनाश पुरुष हैं." इसके बाद उमा भारती को नरेंद्र मोदी सरकार की कुछ और योजनाओं की आलोचना करते सुना जा सकता है.




आप में से कई यह जानते होंगे कि यह वीडियो पुराना है, लेकिन कहते हैं तीर कमान से और बात जुबान से एक बार निकल भर जाए फिर वापिस पीछे नहीं आती. और उसके उस तरह के परिणाम भुगतने होते हैं. सो लोकसभा चुनाव का मौसम है. विपक्ष के लोग क्यों न इसे शेयर करें? वीडियो जमकर शेयर हो रहा है. कई बेबसाईट्स पर यह खबर चल रही है. बीते एक सप्ताह में इस वीडियो को फ़ेसबुक पर तीस लाख से ज़्यादा बाद देखा गया है और हज़ारों लोग इस वीडियो को शेयर कर चुके हैं.

'हरियाणा कांग्रेस व्यापार सेल', 'पक्के कांग्रेसी' और 'औवेसी फ़ैन क्लब' जैसे कुछ फ़ेसबुक पन्नों पर इस वीडियो को हज़ारों बार देखा गया है. हालांकि बीजेपी की वरिष्ठ नेता उमा भारती के जिस वीडियो को 'झांसी के टिकट' से जोड़ते हुए शेयर किया जा रहा है, उसका आगामी लोकसभा चुनाव से कोई लेना-देना नहीं है. दरअसल ये वीडियो 12 साल पुराना साल 2007 का है. उस ज़माने में उभा भारती बीजेपी से बाहर थीं.

वायरल वीडियो में उमा भारती 'गुजरात मॉडल' की आलोचना करते हुए कहती हैं कि प्रदेश मोदी राज में ज़्यादा कर्ज़दार बना और महिलाओं की सुरक्षा से समझौता किया गया. वीडियो में उन्हें कहते सुना जाता है कि "नरेंद्र मोदी उस एक गुब्बारे की तरह हैं, जिसमें मीडिया ने हवा भरी है". उन्हें मीडिया से यह कहते हुए भी सुना गया कि आपने ही हवा भरी है, अब आपको ही निकालना है. 

साल 2004 में पार्टी की एक बैठक के दौरान उमा भारती ने लालकृष्ण आडवाणी को भाषण के बीच में टोका था और फिर नाराज़ होकर बैठक से चली गई थीं. इसके बाद पार्टी ने अनुशासनहीनता के आरोप में उन्हें पार्टी के महासचिव के पद से हटा दिया और उनकी भाजपा की प्राथमिक सदस्यता भी रद्द कर दी थी. साल 2006 में उमा भारती ने नई पार्टी 'भारतीय जनशक्ति पार्टी' का गठन किया. 

वर्तमान में उमा भारती का टिकिट काट कर उन्हें बीजेपी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया गया है. उन्होंने खुद भी चुनाव लड़ने से मना किया हुआ है, बाबजूद इसके भोपाल से पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की टक्कर में उन्हें भोपाल से चुनाव लड़ाए जाने की चर्चाएँ भी चल रही हैं. ऐसे में उनके इस वीडियो का वायरल होना स्वाभाविक है. 

उल्लेखनीय है कि उमा भारती की प्रेस कॉन्फ़्रेस का ये पुराना वीडियो पहले भी कई चुनावों में बीजेपी नेता नरेंद्र मोदी के ख़िलाफ़ इस्तेमाल किया जा चुका है. 

वीडियो भी देख ही लीजिये एक बार फिर - 







Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a comment

abc abc