पू्र्व वित्तमंत्री चिदंबरम का ट्वीट 'विमान सस्ते तो 126 की बजाए 36 क्यों खरीदे जा रहे हैं?'

''सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद भी राफेल विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. सुप्रीम कोर्ट ने भले ही मोदी सरकार को क्लीनचिट दे दी है, लेकिन विपक्ष उसे क्लीनचिट देने के मूड में कतई नहीं है. विपक्ष जेपीसी के गठन की मांग कर रहा है. इस बीच पू्र्व वित्तमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने ट्वीट करके कहा है कि सरकार के अनुसार जब सस्ते विमान मिले हैं तो यदि ऐसा है तो 126 की बजाए 36 विमान क्यों खरीदे जा रहे हैं?''

चार ट्वीट के माध्यम से चिदंबरम ने कहा है कि वित्त मंत्रालय का कहना है कि एनडीए द्वारा राफेल को लेकर जो बातचीत हुई, उसमें उसे 9 से 20 प्रतिशत सस्ते विमान मिले हैं. उन्होंने लिखा है कि 'यदि ऐसा है तो सरकार 126 की बजाए 36 विमान क्यों खरीद रही है?' 

सरकार पर राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता करने का आरोप लगाते हुए चिदंबरम ने कहा '126 विमानों की पेशकश के दौरान केवल 36 विमान खरीदकर सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता करते हुए उसे खतरे में डाला है.' इधर राहुल गांधी ने कहा है कि उनकी पार्टी यह साबित करके रहेगी कि विमान सौदे में ‘चोरी’ हुई है. उन्होंने कहा है कि इस मामले पर शीर्ष अदालत में कैग रिपोर्ट का उल्लेख किया गया है, जबकि ऐसी कोई रिपोर्ट नहीं है.
Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc