नहीं चलेगा 3-5, अब क्या करोगे कमल बाबू?




''मध्यप्रदेश में पंद्रह साल से सत्ता से बाहर रहने के बाबजूद कांग्रेस आज भी दमदारी से सामने नहीं आ पा रही है. इस बात को लेकर आम चर्चा है कि कांग्रेस के नेता सत्ता पक्ष के हाथों में खेल रहे हैं.''
- विधि भारती

हाल में कमलनाथ ने महंगे पेट्रोल डीजल पर घोषणा की कि हम सत्ता में आये तो पेट्रोल 5 रुपये और डीजल 3 रुपये सस्ता कर देंगे. इसे लेकर भी चर्चाएँ बनी रहीं कि अभी तो सत्ता में आये भी नहीं हैं, लेकिन घोषणा में भी गज़ब की सतर्कता बरत रहे हैं. मामूली रकम कम करने की घोषणा पर भी खूब छीछालेदार हुई. कहा गया एक ओर कह रहे हैं कि सत्ता में आये तो... यानि कि अभी भी जो आत्मविश्वास दिखाना चाहिए, वह नहीं दिखा पा रहे. 

अब एक बार फिर यही बात फिर उठ रही है. हाल में सरकार ने पेट्रोल और डीजल दोनों के दाम में 5-5 रुपये की कटौती कर लागू भी कर दिया है. अब सवाल उठ रहा है अभी से 3-5 कर रही कांग्रेस सत्ता में आयेगी तब कितना कम करेगी कैसे करेगी, यह तो बाद की बात है, लेकिन मौजूदा सरकार ने तो कांग्रेस अध्यक्ष की घोषणा से भी ज्यादा लागू ही कर दिया है. कांग्रेस अध्यक्ष के लिए अब यह परेशानी का सबब बन गया है कि वह अब क्या करें, लोग सवाल उठा रहे हैं अब क्या करोगे कमल बाबू? 

उल्लेखनीय है प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से काफी करीबी रिश्ते हैं. ऐसे में उन पर उंगलियाँ उठने लगी हैं. 





Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc