राम का वकील बनने की जगह मोदी मुस्लिम बीवियों के वकील बन गए : प्रवीण तोगड़िया


''कल तक जिनकों मन्दिरों से प्रेम था, वह आज मस्जिदों से इश्क लड़ा रहे हैं। ऐसी सरकार को हिंदू संगठन कतई बर्दाश्त नहीं करेंगे और आने वाले चुनाव में भारतीय जनता पार्टी का विरोध करेंगे। ये बातें अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ.प्रवीण तोगड़िया ने कार्यकर्ताओं से कहीं। उन्होंने 21 अक्टूबर को अयोध्या कूच करने का हिंदू संगठनों के कार्यकताओं से आह्वान भी किया है।''

राकेश अग्निहौत्री 
By: India City News 

कस्बा स्थित पाण्डव गेस्ट हाउस में हिंदू संगठनों के कार्यकताओं को संबोधित करते हुए डॉ.तोगड़िया ने कहा कि हिंदू समाज को अपना वैभव वापस पाने के लिए संगठन के कार्यकर्ताओं ने सरकार बनाने में अपना योगदान दिया। उम्मीद थी कि देश में बेरोजगारी, अशिक्षा, भुखमरी, बलात्कार को नियंत्रित करने के साथ यह सरकार राम मंदिर का निर्माण कर रामराज्य लाएगी। लेकिन इन सभी मुद्दों पर केंद्र की वर्तमान सरकार पूरी तरह से विफल साबित हुई है। न राम मंदिर का निर्माण हुआ और न ही रामराज्य आया। राम मंदिर का वादा करके केंद्र की सत्ता में पहुंचने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चुनाव के पहले तक मंदिरों से प्रेम था लेकिन सत्ता में आने के बाद वह मस्जिदों से इश्क लड़ा रहे हैं। 

डॉ. तोगड़िया ने प्रधानमंत्री पर तंज कसते हुए कहा कि सत्ता मिलने के चार वर्ष बीत गए पर एक बार भी वह अयोध्या रामजन्म भूमि जाने का साहस नहीं कर सके। जबकि प्रधानमंत्री फैजाबाद तक गए थे। उन्होंने कहा कि यदि एससी/एसटी कानून कोर्ट में होने के बावजूद भी संसद में पास किया जा सकता है तो राम मंदिर का कानून संसद में क्यों नहीं बनाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि हिंदू संगठनों ने नरेंद्र मोदी को भगवान राम का वकील बनाकर केंद्र की सत्ता सौंपी थी लेकिन वह राम का वकील बनने की जगह मुस्लिम बीवियों के वकील बन गए।

वर्तमान सरकार में भाजपा व हिंदू संगठनों के जमीनी कार्यकर्ताओं की उपेक्षा व दूसरे दलों से आए नेताओं को महत्व दिया जा रहा है। उन्होंने इस मामले में उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री रीता बहुगुणा जोशी पर तंज कसते हुए कहा कि भाजपा को तीस साल तक कोसने वाली आज राज कर रही हैं। उन्होंने सभी हिंदू संगठनों का आह्वान करते हुए कहा कि आने वाले 21 अक्टूबर को राम मन्दिर के निर्माण के लिए बड़ी संख्या में अयोध्या पहुंचें और वर्तमान केंद्र व प्रदेश सरकार को राम मंदिर बनाने व रामराज्य लाने के लिए विवश कर दें।

कार्यक्रम की अध्यक्षता बजरंग धाम के महंत 1008 बजरंग दास जी ने की व संचालन सुनील तिवारी ने किया। इस अवसर पर क्षेत्रीय मंत्री जीतेंद्र शास्त्री, प्रांत महामंत्री रामजी तिवारी, अजय कुशवाहा, तेजप्रताप, शिवकुमार पाण्डेय मौजूद रहे। इस कार्यक्रम के मुख्य आयोजक अंकित पंडित निवादा तथा राहुल देव, आशीष सिंह, मोनू गुप्ता, सारांश द्विवेदी, जेके गुप्ता, मनीष शुक्ला, विनय तिवारी रहे आदि रहे हैं।

Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc