सोयाबीन, उड़द की फसलों में पीला मोजेक, किसान कर रहे सर्वे कराकर मुआवजा की मांग



''मध्यप्रदेश के कई जिलों से शिकायत मिल रही है कि सोयाबीन और उड़द की फसलों में पीला मोजेक लग गया है. इस कारण से उनकी फसल प्रभावित हो रही है. किसान सर्वे कराकर मुआवजा की मांग करने लगे हैं.'' 



सागर कलेक्टर कार्यालय में मंगलवार को जनसुनवाई के दौरान जैसीनगर ब्लॉक के कई गांवों चकेरी, बदबदी, सलैया, बरखेरा, घूघर आदि के किसान खराब फसलों को लेकर कलेक्टर कार्यालय पहुंचे. 

किसानों ने बताया कि उनकी सोयाबीन और उड़द की फसलों में पीला मोजेक लग गया है. इस कारण फसलें पूरी तरह से नष्ट हो गई हैं. किसानों ने मुआवजे की मांग की है. ज्ञापन लेने आए नायब तहसीलदार अजेंद्रनाथ प्रजापति को उन्होंने ज्ञापन नहीं सौंपा. आखिरकार सिटी मजिस्ट्रेट राजेंद्र सिंह ने ज्ञापन लिया. 

इधर सागर के नरयावली विधायक प्रदीप लारिया कलेक्टर ने बारिश से उड़द फसल को हुए नुकसान को लेकर कलेक्टर आलोक सिंह से चर्चा की. उन्होंने बताया कि क्षेत्र में खरीफ उड़द फसल नष्ट हो गई है, जिसका प्रशासन द्वारा सर्वे कराया जाकर मुआवजा दिया जाए. 

कई जिलों में सोयाबीन लगभग पकने लगी है. कहीं कहीं सोयाबीन की आवक भी शुरू हो गई है. हाल में 2700 से 3000 रुपए के भाव पर बिकना माना जा रहा है. भारी मात्रा में आवक अक्टूबर में ही देखने को मिलेगी. 




Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc