ज्योतिरादित्य सिंधिया ने स्वीकारा पिछले 3 चुनावों में हार के पीछे बड़ी बजह रही गुटबाजी


''कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने माना है कि मध्‍य प्रदेश के चुनाव में कांग्रेस की हार की बहुत बड़ी वजह गुटबाज़ी रही है. उन्होंने कहा कि कमलनाथ और दिग्विजय सिंह सहित कांग्रेस नेताओं के आपसी टकरावों की वजह से पार्टी को नुकसान पहुंचा, इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता.''

कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने NDTV को दिए एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में यह माना कि मध्‍य प्रदेश के चुनाव में कांग्रेस की हार की बहुत बड़ी वजह गुटबाज़ी रही है. मध्‍यप्रदेश चुनाव में आगामी विधानसभा चुनावों के प्रचार के दौरान एनडीटीवी से बात करते हुए उन्होंने कहा कि कमलनाथ और दिग्विजय सिंह सहित कांग्रेस नेताओं के आपसी टकरावों की वजह से पार्टी को नुकसान पहुंचा, इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता. 

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा, मुझे लगता है कि पहले हमने संभवतः एक संयुक्त इकाई के रूप में काम नहीं किया है. हमने शायद अपने सर्वोत्तम प्रयासों को एक साथ नहीं रख सके. उन्‍होंने कहा कि मुझे लगता है कि गुटबाजी ने एक बड़ी भूमिका निभाई. मैं किसी एक्‍स या वाई पर आरोप नहीं लगा रहा हूं, बल्कि हम सभी दोषी हैं. उन्‍होंने कहा कि हम में वो क्षमता है कि हम वोटरों पर असर डाल सकते हैं और हमें अपने एजेंडा पर विश्‍वास है. मुझे लगता है कि यह पिछले 3 चुनावों में बीजेपी की जीत नहीं हुई है, मुझे लगता है कि यह कांग्रेस की हार है.

पार्टी में गुटबाजी के सवाल पर उन्होंने कहा कि जीवन में किसी भी संगठन में मुझे लगता है कि सबसे महत्वपूर्ण है एक साथ आना. इसलिए हम सबको मिलकर किसी एक मुद्दे को ढूढंना चाहिए और फिर उस पर साथ आगे चलना चाहिए. हमने इस बार यही काम किया है. पिछले डेढ़ से 2 साल से हमने अभियान शुरू किया है और पहले से निर्णय किया है. हम सभी एक साथ बैठे और हमारे संबंधों को मजबूत किया. हमें विश्‍वास है कि इस बार कांग्रेस जीत दर्ज करेगी. इस बार माहौल भी जो देखा जा रहा है, वह हमारे पक्ष में है, ऐसा पहले नहीं था.


Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc