क्या सिंधिया हिन्दू रीति-रिवाजों, संस्कारों का मजाक बना रहे हैं?




''मुख्यमंत्री द्वारा मिर्ची लगने की बात आम बोलचाल की भाषा है. 

इसमें कांग्रेस को क्यों मिर्ची लग गई?''



सत्ता के लिए कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के नींबू और मिर्ची की माला पहनकर टोटके करने वाले मुद्दे पर जब मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जबाब दिया तो कांग्रेस ने बवाल मचा दिया. कांग्रेस के कार्यकताओं व नेताओं की तकलीफ तब और बढ गई जब भाजपा प्रवक्ता राजो ​मालवीय ने कहा कि ''कांग्रेस मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर लगातार अभद्र और अश्लील टिप्पणी कर रही है, कभी वह वैश्या कहती है, कभी मदारी कहती है. 

उन्होंने कहा मुझे लगता है यह जनआशीर्वाद को यात्रा को मिल रहे अपार जनसमर्थन की हताशा है. आज मुख्यमंत्री द्वारा मिर्ची लगने की बात अगर कही गई है तो यह आम बोलचाल की भाषा है. इसमें कांग्रेस को क्यों मिर्ची लग गई?'' दरअसल, गुना में जनआशीर्वाद यात्रा में शिवराज ने कहा था कि ''कांग्रेस के दिल्ली वाले नेताओं को ये भी नहीं पता कि मिर्ची कैसे लगती है.''

गौरतलब है कि मंदसौर में रोड शो के दौरान ज्योतिरादित्य सिंधिया के गले में नींबू मिर्ची की माला दिखाई दी थी, वही कुछ दिन पहले भी सिंधिया का चलती कार में से टोटके के भ्रम से प्रसाद में मिला नारियल फेकते हुए दिखाया गया था. इसके बाद से ही सोशल मीडिया पर सिंधिया का मजाक उड़ रहा है एवं टोल हो रहे हैं कि सिंधिया हिन्दू रीति-रिवाजों, संस्कारों का मजाक बना रहे हैं.




Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc