नैन बिछाए, बांहे पसारे, तुझको पुकारे.. देश तेरा, मुकेश नाइट में गूंजी स्वर लहरी


''भोपाल. सुप्रसिद्ध पार्श्व गायक मुकेश की 42 वीं पुण्यतिथि के अवसर पर राज्य संग्रहालय में सोलफुल मुकेश म्यूजिकल ईव के अवसर पर मुकेश जी के सदाबहार गीतों से श्रोतागण मंत्रमुग्ध रह गए.''

संस्था जनपरिषद के तत्वावधान में आयोजित कार्यक्रम के प्रारंभ में जनपरिषद के अध्यक्ष एवं पूर्व डीजीपी श्री एनके त्रिपाठी ने सभी का स्वागत भाषण दिया. सुप्रसिद्ध कॉर्पोरेट मोटिवेटर श्री महेन्द्र जोशी ने कार्यक्रम का सफल संचालन किया. कार्यक्रम में कलाकारों द्वारा गए लगभग 40 गीतों में नैन बिछाए, बाहें पसारे, तुझको पुकारे देश तेरा, सावन का महीना, दिल की नजर से, जीना यहां मरना यहां, मेरा प्यार भी तू है, संसार है एक नदिया, जाने कहां गए वो दिन, चले जाना जरा ठहरो, आ अब लौट चलें और रमैया वस्ता वैया ने श्रोताओं को दीवाना बना दिया. 

श्री राजीव वर्मा ने इस अवसर पर संस्था के रचनात्मक प्रयासों की प्रशंसा  करते हुए कहा कि मुकेश जैसे कलाकार सिर्फ देह त्यागते हैं, वे कभी मरते नहीं. निर्मल पाठक, रॉबिंसन, निशिता, मला उइके, नवश्रीया, निर्मल पाठक एवम् आरएम सिन्हा ने भी मुकेश जी के गीत गाकर कार्यक्रम को गति दी. सुश्री सिद्धि सोनी और श्री एसके लपलीकर एवम् उनकी टीम ने  मुकेश जी के गए गीतों को गाकर उन्हें आदरांजलि दी. 

कार्यक्रम में कला जगत एवम् संगीत के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान देने के कारण सिने अभिनेता श्री राजीव वर्मा, श्री अशोक सिंह, श्री उदय शंकर एवम् श्री अनिल बाधवानी को संस्था की ओर से कुलभूषण दल्लोरी सम्मान से सम्मानित किया गया. कार्यक्रम में सुप्रसिद्ध फिल्म अभिनेता श्री राजीव वर्मा, पूर्व डीजीपी श्री एनके त्रिपाठी, डीजी होम गार्ड श्री महान भारत सागर एवम् पूर्व आईएएस श्री जीपी श्रीवास्तव, संयोजक श्री रामजी श्रीवास्तव एवम् श्री अजय श्रीवास्तव नीलू आदि विशेष रूप से उपस्थित थे. 

Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc