सरकार ने बेरोजगारों से करोड़ों वसूले और नौकरी भी नहीं दी




''प्रदेश सरकार बेरोजगारों के साथ धोखा कर रही है. सरकार ने नियुक्तियों के नाम पर बेरोजगारों से करोड़ों वसूल लिए और नौकरी भी नहीं दी. प्रदेश सरकार पर यह आरोप कांग्रेस ने लगाया है. ''



प्रदेश कांग्रेस मीडिया विभाग की अध्यक्ष शोभा ओझा ने मीडिया से बातचीत करते हुए बताया कि एमपी ऑनलाइन के माध्यम से सरकार ने वर्ष 2014 में 1214 कम्प्युटर ऑपरेटर, 6603 सर्वेक्षण सहायक की नौकरी के लिए आवेदन बुलाये. इसमें 5 लाख बेरोजगार युवाओं से 4 करोड़ फीस के नाम पर वसूल लिए और 2015 में परिक्षा परिणाम घोषित करने में किसी को भी नौकरी नहीं दी. उन्होंने कहा इसी तरह लेखपाल के आवेदकों से भी 1 करोड़ की फीस वसूली गई. 




Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc