पोर्न साइट्स पर तत्काल प्रतिबन्ध की मांग को लेकर ऋषिकेश में चला हस्ताक्षर अभियान


आर्गेनाइजेशन फॉर ह्यूमनराइट्स एंड एन्वायरमेंट ने आज पूर्व घोषित कार्यक्रम के अनुसार आरटीआई लोकसेवा, नई दिशा जनहित ग्रामीण विकास समिति सहयोग से धर्मनगरी ऋषिकेश में लक्ष्मणझूला के निकट पोर्न साइट्स एवं नेट पर आसानी से उपलब्ध पोर्न मूवीज व साहित्य पर तत्काल प्रतिबन्ध की मांग को लेकर हस्ताक्षर अभियान चलाया, जिसे आम जनता एवं विभिन्न स्थान से आये पर्यटको का भरपूर समर्थन मिला और जनता ने इस मांग का समर्थन करते हुए हस्ताक्षर अभियान में बढ़ चढ़ कर भागीदारी निभाई.

- भास्कर चुग की रिपोर्ट 
आर्गेनाइजेशन फॉर ह्यूमनराइट्स एंड एन्वायरमेंट (ओहरे) के अध्यक्ष भास्कर चुग ने बताया कि आज पांच मीटर के बैनर पर हस्ताक्षर कराये गए हैं. भविष्य में विभिन्न शहरों व् ग्रामीण इलाकों में विभिन्न संस्थाओं व् आम जनता के सहयोग से इसी प्रकार से हस्ताक्षर अभियान चलाया जायेगा. शीघ्र ही देहरादून में बैठक करके विभिन्न सन्स्थाओ, संगठनो, राजनैतिक दलो, शिक्षण सन्सथाओ का सहयोग मांगा जायेगा. अंतिम अभियान दिल्ली में चलाया जाएगा जिसके तहत कम से कम पांच सौ मीटर के बैनर हस्ताक्षरित करा कर पीएम को सौंपकर पोर्न साईट्स पर पोर्न मूवीज व अश्लील साहित्य पर तत्काल पूर्ण प्रतिबन्ध की मांग की जायेगी.

ओहरे संगठन के उपाध्यक्ष सुरेन्द्र सिंह रावत एवं महासचिव अजय शाह ने कहा कि सभ्य समाज में पोर्नोग्राफी का कोई स्थान नहीं होना चाहिए और इस बुराई को ख़त्म करने के लिए हम हर स्तर की लड़ाई लड़ने को तैयार हैं.

आर टी आई लोकसेवा संगठन के अध्यक्ष मनोज ध्यानी ने कहा कि कि पूरे देश में बलात्कार व सामूहिक बलात्कार की घटनाएँ तेज़ी से बढी हैं जिस कारण हम सबको अपनी बच्चियों को घर से बाहर कहीं भी भेजते हुए अंतर्मन में के भय सा बना रहता है. कुछ घटनाएँ हाल ही में ऐसी भी सामने आयी हैं जिनमें नौ वर्ष , दस वर्ष, ग्यारह वर्ष तक के छोटे बच्चे रेप की घटनाओं को अंजाम दे चुके हैं. कई प्रकरणों में बेटे ने माँ से, भाई ने बहन से रेप किया है, इस प्रकार की घटनाएँ मानवता के मस्तक पर बहुत बड़ा कलंक हैं. 

ऑर्गेनाईजेशन फॉर ह्यूमनराईट्स एंड एन्वायरमेंट एवं अन्य सामाजिक संश्थाओं से जुड़े कई सामाजिक कार्यकर्ताओं ने इस पर विचार किया तो यह तथ्य सामने आया कि इस प्रकार की घटनाओं में तेज़ी से वृद्धि के मूल में पोर्न साईट्स पर पोर्न मूवीज व अश्लील साहित्य का सस्ते इंटरनेट पर आसानी से उपलब्ध होना व बच्चो व युवको द्वारा उनको देखा व पढ़ा जाना है.

नई दिशा जनहित ग्रामीण विकास समिति के संस्थापक अमर सिंह कश्यप ने कहा कि कि हम इस नतीजे पर पंहुचे हैं कि यदि बलात्कार की घटनाओं पर लगाम लगानी है तो पोर्न साइट्स पर प्रतिबन्ध लगाया जाना बहुत जरूरी है. इस मांग को लेकर हम ऑर्गेनाईजेशन फॉर ह्यूमनराईट्स एंड एन्वायरमेंट के लैटरहैड पर प्रधानमंत्री जी को ज्ञापन प्रेषित कर चुके हैं. परन्तु हमें इसके लिए एक लम्बी लड़ाई भी लड़नी होगी जिसकी शुरुआत ऑर्गेनाईजेशन फॉर ह्यूमनराईट्स एंड एन्वायरमेंट आरटीआई लोकसेवा एवं नई दिशा जनहित ग्रामीण विकास समिति व कई अन्य संस्थाओं के सहयोग देहरादून गांधी पार्क 22 जुलाई 2018 को की थी. 
हस्ताक्षर अभियान में भास्कर चुग, अमर सिंह कश्यप, सूचना अधिकार कार्यकर्ता विनोद कुमार जैन, प्रतीक सक्सेना, दिनेश गांधी, सुरेन्द्र सिंह रावत, अजय शाह, सकलानी जी, गुरविंद्र कुमार, नवीन बडथवाल, राजेश कुमार सहित विभिन्न सामाजिक कार्यकर्ताओं व आम जनता ने बढ़ चढ़ कर भागीदारी निभाई.

Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc