50 के नोट के लेनदेन में लोग ज्यादा सतर्कता नहीं बरतते, इसलिए वे नकली नोट छपने लग गए


''भोपाल में ऐश बाग़ पुलिस ने नकली नोट छापने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके पास से 50 और 500 रुपये के कई नकली नोट बरामद किये हैं. 50 रुपये के नोट के लेनदेन के दौरान लोगों के द्वारा नकली होने के संबंध में ज्यादा सतर्कता नहीं बरती जाती, इसलिए 50 रुपये के ही ज्यादा नकली नोट तैयार किये जा रहे थे.''

जानकारी के अनुसार थाना ऐशबाग की पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि एक युवक अक्सर 50 रुपये के कुछ नकली नोटों को लाकर देशी शराब के ठेकों और आसपास के दुकानों में चलाता है. तत्काल मौके पर पहुंच कर पुलिस ने मुखबिर के बताये गये हुल्ये के आधार पर युवक को पकड़ कर जब उसकी तलाशी ली तो उसके पास से 50 रूपये के कई नक़ली नोट बरामद हुए. पकड़े गये आरोपी ने अपना नाम दीपक अहिरवार 19 वर्ष पुत्र राजेश कुमार जहांगिराबाद का निवासी बताया है. 

पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि  उक्त नकली नोट को लक्ष्मीगंज निवासी अंकित अहिरवार कलर फोटोकॉपी के माध्यम से अपने घर में तैयार करता है और उसे मार्केट में चलाने के लिए देता है. आरोपी की निशानदेही पर अंकित अहिरवार 23 वर्ष पुत्र रमेश अहिरवार को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से 50 रुपये, 500 रुपये के लगभग 250 नग नकली नोट, साथ ही साथ कलर फोटोकॉपी मशीन, विभिन्न रंगों की स्याही, कागज, कटर मशीन आदि भी ज़ब्त किये हैं.

पूछताछ में आरोपी अंकित ने बताया कि 50 रुपये के नोट के लेनदेन के दौरान लोगों के द्वारा नकली होने के संबंध में ज्यादा सतर्कता नही रखी जाती है, इसलिए अधिकतम 50 रुपये के ही नकली नोट तैयार किये जाते रहे हैं. ऐशबाग़ थाना प्रभारी अजय नायर का कहना है कि आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 489 क, ख, ग और 420 के तहत मामला दर्ज किया गया है.

Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc