2019 के चुनाव में पैसा, जाति एवं अपराध का अहम रोल होगा -नितिन गडकरी




चुनाव जीतने के लिए आरक्षण और जातियों का उपयोग नहीं किया जाना चाहिए, लेकिन चुनाव में मुद्दे दलित और किसान के होते हैं. चुनाव पूरी तरह विकास के मुद्दे पर नहीं हो सकते. इस प्रकार से उन्होंने साफ साफ कह दिया है कि आने वाले 2019 के चुनाव में पैसा, जाति एवं अपराध का अहम रोल होगा. इस साफगोई के लिये लोग उन्हें धन्यवाद दे रहे हैं. सही है, धन्यवाद बनता है.

पूर्व बीजेपी अध्यक्ष एवं वर्तमान में सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने यह बात दैनिक भास्कर दिल्ली के सम्पादक श्री आनंद पाण्डे और संवाददाता श्री शरद पण्डे के साथ बातचीत में कही. बातचीत में उन्होंने यह भी कहा कि शैक्षिक, सामाजिक और आर्थिक पिछडापन दुर्भाग्य से सच्चाई है. देश में किसान आज भी अस्वस्थ्य हैं. उन्होंने माना गाँवों में अच्छे स्कूल, अस्पताल, रोड नहीं हैं. किसान को उसकी फसल की बाजिब कीमत नहीं मिल रही है. और इसलिए गाँवों की आबादी कम हो रही है.

आरक्षण पर उनकी राय है कि सामान्य श्रेणी के आर्थिक रूप से पिछड़े लोगों के लिए सोचना होगा. चुनाव जीतने के लिए आरक्षण और जातियों का उपयोग नहीं किया जाना चाहिए, लेकिन चुनाव में मुद्दे दलित और किसान के होते हैं. किसान आत्महत्या पर उनका मानना है की ऐसे लोगों को जाति से हटकर आर्थिक आधार पर आरक्षण का लाभ मिलना चाहिए.




Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc