अर्जुन सिंह की औलाद न होते तो राहुल सिंह की औकात सरपंच बनने की भी नहीं -जालम सिंह




भोपाल. राहुल सिंह मध्यप्रदेश विधान सभा में विपक्ष के नेता हैं, मध्यप्रदेश कांग्रेस का नेत्तृव विधानसभा में कर रहे हैं. जबकि यदि वे अर्जुन सिंह की औलाद न होते तो उनकी औकात सरपंच बनने की भी नही है. आज राहुल सिंह का पाप मंगरे से बोल रहा है. यह जानकारी पत्रकारों से चर्चा करते हुए राज्यमंत्री जालम सिंह पटेल ने दी. उन्होनें बताया कि पावस विधानसभा सत्र में प्रतिपक्ष नेता के विरूद्ध निंदा प्रस्ताव लाने का कोई विचार नहीं है. 

पत्रकारों से चर्चा करते हुए राज्यमंत्री जालम सिंह पटेल ने बताया कि हमारी भारतीय संस्कृति की एक धार्मिक, आर्थिक, पारिवारिक, राजनैतिक आदर्श आचार संहिता है, जिसका पालन मुखिया को करना चाहिए, क्योंकि नेतृत्वकर्ता के कार्यो का आचरणों का अनुशरण वर्तमान एवं आने वाली पीढ़ियां करती हैं. उनके द्वारा किये जाने वाला कृत्य उदाहरण बन जाता है. व्यक्ति धर्म के साथ जन्म लेता है, जिसका पालन अजय सिंह (राहुल भैया) ने नही किया है. 

उन्होंने बताया कि माँ का जब मासिक धर्म रूकता है, तब व्यक्ति का जन्म होता है. माँ से बड़ा दुनिया में कोई नहीं है. अजय राहुल सिंह अपनी ही माँ एवं बहन को प्रताड़ित कर रहे हैं. बजाय माँ की सेवा के सरकार की साजिश बता रहे हैं ये कैसे पुत्र धर्म निभायेंगे? राहुल सिंह ने अपनी माँ को प्रताड़ित करके घोर पाप किया है. यह कृत्य घटिया एवं निन्दनीय है. 
(डिजीटल न्यूज़ सर्विस नेटवर्क)  




Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc