शिक्षिका विवाद सरकार ने कदम पीछे हटाये, शिक्षा मंत्री ने निलंबन वापिसी, सुगम क्षेत्र में ट्रांसफर की बात कही





''जनता दर्शन कार्यक्रम के दौरान सीएम-शिक्षिका विवाद बढ़ता देख सरकार ने कदम पीछे हटाये हैं. उत्तराखंड की रावत सरकार में शिक्षा मंत्री ने शिक्षिका का निलंबन वापिसी के साथ ही सुगम क्षेत्र में ट्रांसफर करने की बात कही है, लेकिन मामला सीएम को माफी मांगना चाहिए, पर अटका हुआ है. मामले में कांग्रेस भी पूरी तरह से कूद पड़ी है. सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए प्रदेश भर में आज जिला मुख्यालयों पर कांग्रेस ने सरकार का पुतला फूंक कर विरोध किया है.''

- बलभद्र मिश्रा 
आज शनिवार को बाजपुर और हल्द्वानी में कांग्रेसियों ने राज्य सरकार के विरोध में नारेबाजी की और पुतला दहन किया. वहीं यूकेडी ने हल्द्वानी के बुद्धा पार्क में राज्य सरकार का पुतला फूंका. इस क्रम में एक जुलाई को देहरादून में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह की अगुवाई में कांग्रेस धरना-प्रदर्शन का बड़ा कार्यक्रम करेगी. पार्टी ने शिक्षिका का निलंबन तुरंत वापस न लेने की स्थिति में आंदोलन को और तेज करने की चेतावनी दी है.


कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने मीडिया से बातचीत में शुक्रवार को सरकार को जमकर घेरा. उन्होंने कहा कि महिला शिक्षक अपनी तकलीफ लेकर सीएम के जनता दरबार में आई थी. उनके साथ जिस तरह का व्यवहार किया गया है, उससे सीएम पद की गरिमा को ठेस पहुंची है. उन्होंने कहा कि जिन जनता दर्शन कार्यक्रम में समस्याएं दूर होने की जगह बढ़ती हो, वहां इसे करने का कोई फायदा नहीं है.

मामला बढ़ता देख सरकार ने कदम पीछे हटाये हैं. उत्तराखंड की रावत सरकार में शिक्षा मंत्री ने शिक्षिका का निलंबन वापिसी के साथ ही सुगम क्षेत्र में ट्रांसफर करने की बात कही है, लेकिन मामला सीएम को माफी मांगना चाहिए, पर अटका हुआ है. 
(डिजीटल न्यूज़ सर्विस नेटवर्क )


Share on Google Plus

News Digital India 18

पाठकों के सुझाव सदा हमारे लिए महत्वपूर्ण है ..

0 comments:

Post a Comment

abc abc